Home » Latest » वामपंथ का आंतरिक विरोधाभास : अखिलेन्द्र प्रताप सिंह की एक जरूरी वार्ता
Akhilendra Pratap Singh

वामपंथ का आंतरिक विरोधाभास : अखिलेन्द्र प्रताप सिंह की एक जरूरी वार्ता

‘वामपंथ का आंतरिक विरोधाभास’ | ‘Left’s internal contradiction’

आईपीएफ और स्वराज अभियान के नेता व इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पूर्व अध्यक्ष अखिलेन्द्र प्रताप सिंह (Akhilendra Pratap Singh) से लाउड इंडिया टीवी (Loud India TV) के लिए वरिष्ठ पत्रकार संतोष भारतीय ने लंबी बातचीत की।

भारत में वामपंथ की विफलताओं और वामपंथ के आंतरिक विरोधाभास पर इस वार्ता को अवश्य सुना चाहिए।

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

shahnawaz alam

अदालतों का राजनीतिक दुरुपयोग लोकतंत्र को कमज़ोर कर रहा है

Political abuse of courts is undermining democracy असलम भूरा केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.