Home » Latest » शेष नारायण सिंह के निधन से मीडिया जगत में शोक, पीएम समेत कई नेताओं ने जताया दुख
sheshji and modi

शेष नारायण सिंह के निधन से मीडिया जगत में शोक, पीएम समेत कई नेताओं ने जताया दुख

नई दिल्ली, 07 मई 2021. कोरोना से मीडिया जगत के एक और चमकते सितारे का निधन हो गया। जी हां आज शुक्रवार को देशबंधु के पॉलिटिकल एडिटर और हस्तक्षेप.कॉम के संरक्षक वरिष्ठ पत्रकार शेष नारायण सिंह जी का निधन हो गया।

शेष नारायण जी कोरोना से संक्रमित थे और ग्रेटर नोएडा के एक अस्पताल में भर्ती थे जहां उनका इलाज चल रहा था। आज सुबह सात बजे उन्होंने अस्पताल में ही आखिरी सांस ली।

शेषजी हमेशा अपने बेबाक विचार और अपनी जानकारी के लिए जाने जाते रहे हैं, उनका यूं चले जाना इस देश और मीडिया जगत के लिए एक बड़ी क्षति है।

शेष नारायण जी के निधन पर न सिर्फ मीडिया जगत बल्कि राजनीतिक गलियारे में भी शोक की लहर है।

शेष नारायण जी के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके शोक व्यक्त किया है।

पीएम मोदी ने लिखा वरिष्ठ पत्रकार शेष नारायण सिंह जी का निधन अत्यंत दुखद है। पत्रकारिता जगत में अपने महत्वपूर्ण योगदान के लिए वे हमेशा जाने जाएंगे। दुख की इस घड़ी में उनके परिजनों के लिए मेरी संवेदनाएं। ओम शांति!

पीएम मोदी के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी दुख जताया। उन्होंने लिखा वरिष्ठ पत्रकार श्री शेष नारायण सिंह जी का निधन अत्यंत दुःखद है। आपका सम्पूर्ण जीवन जनपक्षीय पत्रकारिता को समर्पित रहा।  प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को अपने परम धाम में स्थान व शोकाकुल परिजनों को यह दारुण दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें। ॐ शांति!

गृह मंत्री अमित शाह ने लिखा वरिष्ठ पत्रकार शेष नारायण सिंह जी ने अपनी प्रतिभा से पत्रकारिता जगत को सुशोभित किया। उनका जाना पत्रकारिता जगत के लिए बड़ी क्षति है। मैं उनके परिजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त करता हूँ। ॐ शांति शांति शांति

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने लिखा वरिष्ठ पत्रकार शेष नारायण सिंह जी के निधन का समाचार मिला। सामाजिक एवं राजनीतिक विषयों पर उनके साथ चर्चाएँ , विशेषतः अमेठी के स्थानीय मुद्दों पर उनके साथ बातें करना इत्यादि ,बहुत यादें छोड़ गए हैं।प्रभु से प्रार्थना की उनकी आत्मा को शांति मिले एवं दुःख की घड़ी में परिवार को संबल।

शेष नारायण सिंह जी के अकस्मात चले जाने से मीडिया जगत सदमे में हैं। सभी का यहीं कहना है कि अभी तो बहुत कुछ बताना और देखना बाकि था… शेष जी के यूं चले जाने से बहुत कुछ शेष रह गया…

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

two way communal play in uttar pradesh

उप्र में भाजपा की हंफनी छूट रही है, पर ओवैसी भाईजान हैं न

उप्र : दुतरफा सांप्रदायिक खेला उत्तर प्रदेश में भाजपा की हंफनी छूट रही लगती है। …

Leave a Reply