Home » Latest » #रोजगारबनेमौलिक_अधिकार पर 14 सितम्बर के कार्यक्रम के लिए हुई देशभर के छात्र युवा संगठनों की बैठक
National News

#रोजगारबनेमौलिक_अधिकार पर 14 सितम्बर के कार्यक्रम के लिए हुई देशभर के छात्र युवा संगठनों की बैठक

Meeting of student youth organizations across the country for the September 14 program on Employment should be a fundamental right

लखनऊ, 10 सितंबर 2020. आज युवा मंच द्वारा 14 सितंबर को शुरू हो रहे संसद के मॉनसून सत्र (Monsoon session of parliament) के दौरान रोजगार बने मौलिक अधिकार (Employment should be a fundamental right) नारे पर आयोजित वर्चुअल बैठक में युवा हल्ला बोल, आइसा, जन जागरण अभियान, बात अधिकार की, युवा शक्ति संगठन, भारत नौजवान सभा, किसान परिवार, राष्ट्रीय विद्यार्थी चेतना परिषद, इंकलाबी छात्र मोर्चा, विद्यार्थी युवजन सभा,निजीकरण व बेरोजगारी विरोधी संगठन समेत देशभर के विभिन्न छात्र, युवा, प्रतियोगी छात्र संगठनों के प्रतिनिधि शामिल हुए,

बैठक में सबने सर्वसम्मति से यह तय किया कि रोजगार के सवाल पर संसद के मानसून सत्र के पहले दिन राष्ट्रीय स्तर पर एक बड़ा प्रतिवाद आयोजित किया जाएगा और इस दिन सोशल मीडिया समेत प्रतिवाद के विभिन्न स्वरूपों को लिया जाए. इस दिन युवाओं की मांगों पर ईमेल, ट्विटर, फेसबुक, वाट्सएप द्बारा अपने क्षेत्र के सांसदों व प्रधानमंत्री को पत्रक भेज रोजगार को मौलिक अधिकार बनाने की मांग उठाने के लिए दबाव बनाया जायेगा. यह भी तय हुआ कि यदि संभव हो तो उस दिन रोजगार के सवाल पर वर्चुअल छात्र युवा संसद भी आयोजित की जाए जिसका फेसबुक लाइव भी चलाया जाए.

बैठक में युवा हल्ला बोल व अन्य संगठनों द्वारा 17  सितंबर को रोजगार के सवाल पर आयोजित कार्यक्रम व इस दौरान होने वाले अन्य कार्यक्रमों में भी सक्रिय रुप से हिस्सेदारी का निर्णय लिया गया. बैठक में यह सहमति बनी कि निम्नलिखित मांगों को सत्र के दौरान विभिन्न रूपों में उठाया जाएगा.

#रोजगारबनेमौलिक_अधिकार पर होने वाले कार्यक्रम की मांगे इस प्रकार हैं –

  • 24 लाख रिक्त पदों पर भर्ती के लिए !
  • निशुल्क, समयबद्ध, पारदर्शी भर्ती के लिए !
  • शिक्षा व स्वास्थ्य के अधिकार के लिए !
  • काले कानूनों के खात्मे और लोकतंत्र की रक्षा के लिए !
  • हर बेरोजगार को बेकारी भत्ता के लिए!
  • मानदेय, अस्थायी कर्मचारियों के नियमितीकरण और सम्मानजनक वेतन के लिए!
  • कुटीर, लघु व कृषि आधारित उद्योगों के विकास लिए!
  • प्राकृतिक संसाधनों व सार्वजनिक उद्योगों की रक्षा के लिए!
  • रोजगार सृजन व संसाधन जुटाने हेतु कारपोरेट पर टैक्स के लिए !
  • कृषि- सहकारी खेती के विकास के लिए!
  • मनरेगा में सालभर काम व ₹500 मजदूरी के लिए!
  • शहरी रोजगार गारंटी कानून के लिए!
  • नई पेंशन स्कीम के खात्मे के लिए!

बैठक में मुख्य रूप से युवा हल्ला बोल के साथी गोविंद मिश्रा, आइसा के सोनू यादव, जन जागरण अभियान उड़ीसा के साथी मधुसूदन शेट्टी, बिहार के  हितेश, बात अधिकार की से दिल्ली से रियासत फैज, युवा शक्ति संगठन के गौरव सिंह, भारत नौजवान सभा के अंबुज मलिक, राष्ट्रीय विद्यार्थी चेतना परिषद के मनोज यादव, किसान परिवार के अंशुल उमराव, इंकलाबी छात्र मोर्चा रामचंद्र, विद्यार्थी युवजन सभा के शैलेश मौर्य, युवा मंच के अनिल सिंह, सोनभद्र से जितेंद्र धांगर, वाराणसी से योगीराज सिंह, आजमगढ़ से जयप्रकाश यादव, आगरा से आराम सिंह गुर्जर, पवन पाल, त्रिभुवन नाथ, विनोवर शर्मा, जेपी कुशवाहा, सुरेंद्र पांडेय, आकृति यादव, आकाश सिंह राठौर, हजारीबाग विश्वविद्यालय में शोध छात्र अनुराग वर्मा, आलोक राजभर आदि ने अपनी बात रखी.

संचालन युवा मंच संयोजक राजेश सचान ने किया.

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

breaking news today top headlines

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 23 मई 2022 की खास खबर

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस Top headlines of India today. Today’s big news …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.