Home » Latest » जानिए क्या होती है उल्कापिंडों की बरसात
space

जानिए क्या होती है उल्कापिंडों की बरसात

Meteor Shower in Hindi (उल्का वर्षा)

उल्का वर्षा उल्काओं की प्राकृतिक स्थिति है। ऐसा होना हमेशा तो नहीं होता लेकिन जब भी होता है, दृश्य काफी मनोहारी और विचित्र होता है। कुछ समय पूर्व लियोनिड उल्का की बरसात (Leonid Meteor Shower, लियोनिड उल्का बौछार) की चर्चा जोरों पर थी। लोग लियोनिड उल्का बौछार के बारे में जानकारी (Information about the Leonid meteor shower in Hindi) ज्यादा से ज्यादा एकत्र करना चाहते हैं।

क्या होती है लियोनिड उल्का की बरसात (Leonids Meteor shower)

लियोनिड उल्का की बरसात इससे पहले भी होती रही है। 1998 से 2002 के बीच इस चमत्कारी उल्का ने अपने पूरे जलवे दिखाए हैं। माना जाता है कि धरती जब किसी उल्का के ऑर्बिट से गुजरती है तो उल्का की बरसात दिखाई देती है। जैसे-जैसे उल्का अपनी कक्षा में घूमती है बर्फ भाप बनने लगती है और मिट्टी और पथरीले कणों के टुकड़े छूटने लगते हैं और यही लियोनिड उल्काओं का पर्व हो जाता है।

उल्काओं को गिरते हुए यूं तो किसी भी रात को देखा जा सकता है, लेकिन जब इनकी तादाद ज्यादा हो तो इसे उल्का की बरसात कहा जाता है।

लियोनिड उल्काओं की वजह से होने वाली ये आतिशबाजी ‘धूमकेतु 55 पी बटा टेंपल टटल‘ के साथ जुड़ी हुई है। इस दौरान उल्काओं के बरसात की संख्या सैंकड़ों प्रति घंटा तक हो जाती है लेकिन इस साल उल्काएं पहले की तुलना में बहुत तेज रफ्तार और कम समय के लिए दिखेंगी। लंबे समय से रात के समय आकाश में लियोनिड उल्काओं की आतिशबाजी (Fireworks of Leonid Meteors in the Sky) शानदार दिखती है। हालांकि अमावस्या के बाद का आसमान (new moon sky) काला रहता है इस कारण इसे देखने में परेशानी हो सकती है लेकिन इसके बावजूद लोगों में इसका नजारा देखने का आर्कषण बना रहता है।

उल्का पिंड की बरसात सामान्य टेलिस्कोप से देखने में सहूलियत होती है। संभव है कि रात कोहरे वाली हो ऐसे में बाहरी क्षेत्रों में जाकर इसका नजारा लिया जा सकता है।

उल्का वृष्टि क्या होती है? What is a meteor shower?

खगोलविदों के अनुसार (according to astronomers) पृथ्वी के सिंह राशि के पास से गुजरने से इसे सिंह की उल्कावृष्टि कहा जाता है। अंतरिक्ष में स्वतंत्र घूमते उल्का पिंड पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण के चलते करीब 72 किमी प्रति घंटा की गति से खींचे चले आते हैं। जो आसमान में लकीर की तरह दिखाई देते हैं।

Notes : Leonids Meteor shower. The Leonids are a prolific meteor shower associated with the comet Tempel–Tuttle, which are also known for their spectacular meteor storms that occur about every 33 years. The Leonids get their name from the location of their radiant in the constellation Leo: the meteors appear to radiate from that point in the sky. (Wikipedia)

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

Say no to Sexual Assault and Abuse Against Women

जानिए खेल जगत में गंभीर समस्या ‘सेक्सटॉर्शन’ क्या है

Sport’s Serious Problem with ‘Sextortion’ एक भ्रष्टाचार रोधी अंतरराष्ट्रीय संस्थान (international anti-corruption body) के मुताबिक़, …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.