किसानों पर अत्याचार के मामले में मोदी सरकार ने अंग्रेजों को भी पीछे छोड़ा

किसानों पर अत्याचार के मामले में मोदी सरकार ने अंग्रेजों को भी पीछे छोड़ा

Modi government is persecuting farmers – Randhir Singh Suman

किसानों पर अत्याचार कर रही है मोदी सरकाररणधीर सिंह सुमन

बाराबंकी। आल इण्डिया किसान सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष रणधीर सिंह सुमन ने कहा है कि मोदी सरकार किसानों पर अत्याचार कर रही है।

बिशुनपुर में किसान आंदोलन में शहीद किसानों की स्मृति में श्रद्धांजलि सभा को सम्बोधित करते हुए रणधीर सिंह सुमन ने कहा कि मोदी की किसान विरोधी नीतियों के कारण हरियाणा में ढाई घण्टे तक पुलिस ने आंसू गैस के गोले किसानों पर दागे, किसानों को लाठियों से बुरी तरह से पीटा गया। उन्होंने कहा कि अंग्रेजी सरकार को भी मोदी सरकार ने अत्याचार में पीछे छोड़ दिया है।

किसान सभा के जिलाध्यक्ष विनय कुमार सिंह ने कहा कि सरकार किसान नेताओं का दमन कर रही है झूठे मुकदमे लिख रही है, लेकिन देश के किसान पीछे हटने वाले नहीं है, आन्दोलन जारी रहेगा।

किसान सभा के उपाध्यक्ष प्रवीण कुमार ने कहा कि मोदी सरकार अडानी अम्बानी के हाथों किसानों की जमीनों को देना चाहती है, इसीलिए किसानों के लिए तीन नये कानूनों का निर्माण किया है।

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के सचिव बृजमोहन वर्मा ने कहा कि पार्टी के किसान नेताओं के ऊपर फर्जी मुकदमे कायम किये जा रहे हैं, हद तो यहां तक हो गई है कि मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस में किसान नेताओं के ऊपर गुण्डा एक्ट के मुकदमे कायम किये गये हैं। सरकार दमन पर उतारू है, हम किसान आन्दोलन से पीछे हटने वाले नहीं हैं। श्रद्धांजलि सभा को किसान नेता महेन्द्र यादव, दीपक वर्मा ने भी सम्बांधित किया। श्रद्धांजलि सभा में अलाउद्दीन अली, अमर सिंह प्रधान, श्याम सिंह, राहुल पाण्डेय, अंकुल तिवारी, अंशुमान तिवारी, रामू रावत, श्यामू रावत, राजेश सिंह,  विष्णु त्रिपाठी आदि प्रमुख लोग मौजूद थे।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner