Home » Latest » मप्र में भाजपा कार्यालय में मोदीजी के आदेश “दो गज की दूरी” की उड़ीं धज्जियां, कमलनाथ ने पूछा- ‘नियम सिर्फ गरीबों के लिये है क्या मोदी जी?’
Modiji's order in the BJP office in Madhya Pradesh, social distancing

मप्र में भाजपा कार्यालय में मोदीजी के आदेश “दो गज की दूरी” की उड़ीं धज्जियां, कमलनाथ ने पूछा- ‘नियम सिर्फ गरीबों के लिये है क्या मोदी जी?’

नई दिल्ली, 24 मई 2020 : भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के करीबी पूर्व मंत्री प्रभुराम चौधरी (Former Minister Prabhuram Chaudhary) के रायसेन के समर्थकों ने बीते शनिवार को भाजपा के भोपाल कार्यालय में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आदेश दो गज की दूरी यानी सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) के नियमों का खुलकर मजाक उड़ाया गया।

इस पर पूर्व मुख्यमंत्री कांग्रेस नेता कमलनाथ ने निशाना साधते हुए कहा कि क्या मोदी जी के लॉकडाउन के नियम सिर्फ़ ग़रीबों, आमजन के लिये हैं, आपकी पार्टी के नेताओं पर यह नियम लागू नहीं होते हैं?

कमलनाथ ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर इन चित्रों को साझा करते हुए लिखा –

शिवराज जी कल कोरोना की समीक्षा के दौरान नियमों के पालन पर आप प्रदेशवासियों को सख़्त चेतावनी दे रहे थे। प्रदेश में आमजन के लिये इस लॉकडाउन में शादी समारोह हो या गमी हो संख्या तय है। सभी आमजन नियमों का पालन भी कर रहे हैं।

उन्होंने अपने ट्वीट में आगे कहा,

“वहीं आपके भाजपा कार्यालय में आज लॉकडाउन में आपकी व अन्य ज़िम्मेदार भाजपा नेताओ की उपस्थिति में एक भीड़ भरा कार्यक्रम आयोजित होता है, नियमों का जमकर मखौल उड़ता है, सोशल डिस्टन्सिंग का ज़रा भी पालन नहीं होता है? इसके पूर्व भी ऐसा कई बार हो चुका है।”

अपने अगले ट्वीट में कमलनाथ ने कहा,

“क्या मोदी जी के लॉकडाउन के नियम सिर्फ़ ग़रीबों, आमजन के लिये हैं, आपकी पार्टी के नेताओ पर यह नियम लागू नहीं होते हैं? क्या इसके दोषियों पर आमजन की तरह ही कार्रवाई होगी?”


हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

akhilesh yadav farsa

पूंजीवाद में बदल गया है अखिलेश यादव का समाजवाद

Akhilesh Yadav’s socialism has turned into capitalism नई दिल्ली, 27 मई 2022. भारतीय सोशलिस्ट मंच …