Home » समाचार » देश » एमपी में एक लाख से ज्यादा लोगों ने हस्ताक्षर कर आंगनवाड़ी में अंडे देने का किया समर्थन
National News

एमपी में एक लाख से ज्यादा लोगों ने हस्ताक्षर कर आंगनवाड़ी में अंडे देने का किया समर्थन

More than one lakh people signed support for egg laying in Anganwadi in MP

भोपाल, 27 दिसंबर 2019. मध्यप्रदेश में एक लाख बीस हजार लोगों ने आंगनवाड़ी में अंडे देने का हस्ताक्षर अभियान चलाकर समर्थन किया है। भोजन के अधिकार अभियान के कार्यकर्ताओं ने खाद्य सुरक्षा से जुड़ी अपनी मांगों का ज्ञापन सोमवार को महिला एवं बाल विकास के प्रमुख सचिव अनुपम राजन को सौंपा। इसके साथ ही उन्हें हस्ताक्षर सौंपकर मांग की कि मध्यप्रदेश में बच्चों के स्वास्थ्य और पोषण मानकों को बेहतर बनाने के लिए इन पर एक्शन लिया जाना चाहिए।

भोजन के अधिकार अभियान से जुड़े विभिन्न जन संगठनों एवं संस्थाओं द्वारा खाद्य असुरक्षा और कुपोषण से मुक्ति के लिए जनयात्रा 2 अक्टूबर से 20 नवम्बर 2019 निकाली गई। यह यात्रा रीवा, पन्ना, सतना, उमरिया, निवाड़, शिवपुरी, झाबुआ, शहडोल, विदिशा, खंडवा, बडवानी, खरगोन, मंडला, जबलपुर, बैतूल, शाजापुर,  छतरपुर एवं भोपाल जिले में इस जनयात्रा का आयोजन किया गया।

इस यात्रा के माध्यम से बच्चों में कुपोषण को पूरी तरह से खत्म करने के लिए समुदाय से साथ विभिन्न पहुलओं जिसमे सामाजिक, सांस्कृतिक एवं जेंडर जैसे मुद्दों पर चर्चा एवं संवाद किया गया। यात्रा के दौरान समुदाय ने कुपोषण को ख़त्म करने के लिए आंगनवाड़ी एवं मध्यान्ह भोजन में अंडा एवं फल के वितरण, मातृत्व हक़ को दो बच्चों तक लागू करने, आंगनवाडी को क्रेच के रूप में स्थापित करने का व्यापक समर्थन दिया है.

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! 10 वर्ष से सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 
 भारत से बाहर के साथी पे पल के माध्यम से मदद कर सकते हैं। (Friends from outside India can help through PayPal.) https://www.paypal.me/AmalenduUpadhyaya

भोजन का अधिकार अभियान की तरफ से राकेश मालवीय, रेखा श्रीधर, शिवराज कुशवाह, जावेद अनीस एवं अंजलि आचार्य ने यह ज्ञापन सौंपा।

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

Modi in Gamchha

गहरे संकट में अर्थव्यवस्था : जीडीपी का 34% पहुंच चुका है भारत सरकार का वित्तीय घाटा !

नई दिल्ली, 03 जुलाई 2020. भारत की विकास दर (India’s growth rate) रसातल में पहुंच …

Leave a Reply