Home » समाचार » देश » Corona virus In India » ब्लैक फंगस पर डॉ हर्ष वर्धन ने ट्विटर पर दिया जागरूकता का संदेश
what is mucormycosis in hin

ब्लैक फंगस पर डॉ हर्ष वर्धन ने ट्विटर पर दिया जागरूकता का संदेश

Mucormycosis, commonly known as ‘Black Fungus’ has been observed in a number of COVID-19 patients recently.

As Black Fungus Cases Rise, Health Minister On Symptoms, Do’s And Don’ts

नई दिल्ली, 14 मई 2021: केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी और पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Minister for Health & Family Welfare, Science & Tech, Earth Sciences) ने लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से म्यूकोर्माइकोसिस, जिसे आमतौर पर ब्लैक फंगस के रूप में जाना जाता है, का शुरुआती तौर पर पता लगाने, और उसके उपचार के बारे में सलाह दी है। ब्लैक फंगस के बढ़ते मामलों को देखते हुए उन्होंने ट्विटर पर लोगों को इसके लक्षणों और संक्रमण के बाद आवश्यक कदम उठाए जाने के बारे में जानकारी दी है।

जानिए ब्लैक फंगस के बारे में | Learn about black fungus in Hindi

शुक्रवार को अपने एक ट्वीट में डॉ हर्ष वर्धन ने बताया है कि

“म्यूकोर्माइकोसिस या ब्लैक फंगस के मामलों को कोविड-19 के मरीजों में हाल में देखा गया है। जागरूकता एवं समय रहते इसका निदान इस फंगल संक्रमण से बचाव में मदद कर सकता है। ब्लैक फंगस एक दुर्लभ, मगर गंभीर स्थिति होती है, जिसे कोरोना वायरस से ग्रस्त मरीजों में देखा जा रहा है।”

लोगों को जागरूक करने के लिए उन्होंने ट्विटर पर चार स्लाइड्स भी साझा की हैं, जो ब्लैक फंगस के बारे में जानकारी देती हैं।

what is mucormycosis in Hindi
what is mucormycosis in hindi

कोविड-19 से उबर रहे, या फिर इससे उबर चुके लोगों में म्यूकोर्माइकोसिस का संक्रमण होने के बाद यह चर्चा का विषय बना हुआ है। इस संबंध में पूछे जाने वाले कुछ प्रमुख सवालों के जवाब डॉ हर्ष वर्धन के ट्वीट में दिए गए हैं, जो इस प्रकार हैः

जानिए क्या है म्यूकोर्माइकोसिस? Know what is mucormycosis in Hindi?

म्यूकोर्माइकोसिस एक फंगल संक्रमण है, जो मुख्य रूप से उन लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है, जो पहले से डायबिटीज जैसी किसी अन्य बीमारी से ग्रस्त हैं। यह संक्रमण वातावरण में मौजूद रोगजनकों के खिलाफ लड़ने की शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को कम कर देता है। वातावरण में मौजूद फंगल बीजाणुओं के संपर्क में आने से लोग म्यूकोर्माइकोसिस का शिकार बनते हैं। किसी घाव के जरिये भी यह शरीर में प्रवेश कर सकता है, और संक्रमण का कारण बन सकता है।

how can a patient contract what is mucormycosis in Hindi
how can a patient contract
मरीजों को कैसे चपेट में लेता है म्यूकोर्माइकोसिस संक्रमण? | How do patients get mucormycosis infection?

पहले से गंभीर रोग, अनियंत्रित डायबिटीज, स्टेरॉयड्स से प्रतिरक्षा दमन, वैरिकोनाजोल थेरैपी और लंबे समय तक आईसीयू में रहने वाले लोगों में फंगल संक्रमण की आशंका अधिक होती है।

mucormycosis symptomsMucormycosis Symptoms
mucormycosis symptoms

म्यूकोर्माइकोसिस के लक्षण क्या हैं? What are the symptoms of mucormycosis? | Black Fungus | Mucormycosis Symptoms: How to identify

आंखों के आसपास दर्द एवं लाल रंग, बुखार, सिरदर्द, खांसी, तेज सांस चलना, खूनी उल्टी, परिवर्तित मानसिक स्थिति संक्रमण के संभावित लक्षण हो सकते हैं।

dos and donts in mucormyc
dos and donts in mucormyc

क्या करें, और क्या न करें?

डॉ हर्ष वर्धन ने अपने ट्वीट में सलाह देते हुए कहा है कि अवरुद्ध नाक के सभी मामलों को बैक्टीरियल साइनसाइटिस के मामलों से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए, खासतौर पर इम्यूनोसप्रेशन और / या इम्यूनोमॉड्यूलेटर्स ले रहे कोविड-19 रोगियों के मामले में।

(India science wire)

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

health news

78 शहरों के स्थानीय नेतृत्व ने एकीकृत और समन्वित स्वास्थ्य नीति को दिया समर्थन

Local leadership of 78 cities supported integrated and coordinated health policy End Tobacco is an …

Leave a Reply