मुनव्वर राणा बोले अमित शाह पर केस दर्ज हो, कोई शाह या शहंशाह आता है तो फ़क़ीर और उनके बेटे-बेटियों को बंद कर दिया जाता है

Munawwar Rana said that case should be registered against Amit Shah, if any Shah or Emperor comes, then Faqir and his sons and daughters are locked up.

नई दिल्ली, 22 जनवरी 2020. लखनऊ के घंटाघर में सीएए के खिलाफ महिलाओं के विरोध प्रदर्शन (Women’s protests against CAA) के दौरान मशहूर शायर मुनव्वर राणा की दो बेटियों समेत 18 महिलाओं पर एफआईआर दर्ज (FIR registered against 18 women, including two daughters of Munawar Rana) की गई है। इस पर मुनव्वर राणा ने भाजपा सरकार और अमित शाह पर जमकर निशाना साधा।

राणा ने कहा कि अगर इलाके में धारा 144 लागू है तो फिर हमारे गृह मंत्री अमित शाह पर भी मुकदमा होना चाहिए क्योंकि वो यहां आए और हजारों की भीड़ लगाई।

मुनव्वर राणा ने ट्वीट किया,

“धारा 144 का उल्लंघन करने पर

@AmitShah

पर भी दर्ज हो केस

हमेशा से होता आया है, जब कोई शाह या शहंशाह कहीं आता है तो वहां के फ़क़ीर और उनके बेटे-बेटियों को बंद कर दिया जाता है।

FIR तो मेरे नाम करना चाहिए था..हमनें ऐसी बाग़ी लड़कियां पैदा की हैं!”

मुनव्वर राना ने भारत के संविधान की प्रस्तावना को ट्वीट किया और एक अन्य ट्वीट में लिखा,

अब तो मिलजुल के परिंदों को भी रहना होगा,
जितने तालाब हैं सब नीलकमल वाले हैं।

Ab tou miljul ke parindo’n ko bhi rehna hoga,
Jitne taalab hain sab neelkamal waaley hain.

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations