सावधान ! चीन और थाईलैंड में नए खतरनाक कोरोना वायरस का पता चला, डब्ल्यूएचओ ने सतर्क किया

Health news

New dangerous corona virus detected in China and Thailand, WHO alerted

नई दिल्ली, 13 जनवरी 2020. चीन और थाईलैंड में एक नए कोरोना वायरस (सीओवी)- Coronaviruses (CoV) का पता चला है, जो पशुओं से मनुष्यों में संचरित हुआ है। इसको लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सचेत किया है।

डब्ल्यूएचओ के एक दस्तावेज के मुताबिक कोरोना वायरस (सीओवी)- Coronaviruses (CoV), वायरस का एक बड़ा परिवार है जो सामान्य सर्दी से लेकर गंभीर बीमारियों जैसे मध्य पूर्व रेस्पिरेटरी सिंड्रोम -Middle East Respiratory Syndrome (MERS-CoV) और गंभीर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम – Severe Acute Respiratory Syndrome (SARS-CoV) का कारण बनता है। कोरोना वायरस एक नया वायरस है, जो पहले मनुष्यों में नहीं पहचाना गया है।

कोरोनवायरस ज़ूनोटिक (zoonotic) हैं, जिसका अर्थ है कि वे जानवरों और मनुष्यों के बीच संचारित होते हैं। विस्तृत जांच में पाया गया कि SARS-CoV मुश्कबिलाव (सिविट बिल्ली – civet cats) से और MERS-CoV कूबड़ वाले ऊंटों से मनुष्यों में पहुंचे।

डब्ल्यूएचओ के दस्तावेज के मुताबिक कई ज्ञात कोरोना वायरस जानवरों में अभी भी संचरित हो रहे हैं जिन्होंने अभी तक मनुष्यों को संक्रमित नहीं किया है।

Common signs of Coronaviruses infection

डब्ल्यूएचओ के दस्तावेज के मुताबिक कोरोना वायरस संक्रमण के सामान्य लक्षणों में श्वसन संबंधी लक्षण, बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ और सांस लेने में कठिनाई शामिल हैं। अधिक गंभीर मामलों में, संक्रमण से निमोनिया, गंभीर तीव्र श्वसन सिंड्रोम, गुर्दे की विफलता और यहां तक कि मृत्यु भी हो सकती है।

recommendations to prevent Coronaviruses infection

डब्ल्यूएचओ के दस्तावेज के मुताबिक संक्रमण को रोकने के लिए मानक सिफारिशों में नियमित रूप से हाथ धोना, खाँसने और छींकने पर मुंह और नाक को ढंकना, मांस और अंडे को अच्छी तरह से पकाना शामिल है। खांसी और छींकने जैसी सांस की बीमारी के लक्षण दिखने वाले किसी भी व्यक्ति के भी निकट संपर्क से बचें।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) थाईलैंड में एक व्यक्ति में नया कोरोनावायरस की पुष्टि की रिपोर्टों के बाद थाईलैंड और चीन में अधिकारियों के साथ काम कर रहा है।

अन्य देशों में इस नए कोरोना वायरस के पाए जाने की संभावना अप्रत्याशित नहीं है, इसीलिए डब्ल्यूएचओ ने अन्य देशों में सक्रिय निगरानी और तैयारियों के लिए कहा है। डब्ल्यूएचओ ने नए वायरस से बीमार व्यक्तियों का पता लगाने और उनका इलाज करने के बारे में मार्गदर्शन जारी किया है।

डब्ल्यूएचओ ने दोहराया है कि चीन में इस प्रकोप के स्रोत को पहचानने और किसी भी पशु जलाशय या मध्यवर्ती मेजबान की पहचान करने के लिए जांच जारी रखना अनिवार्य है।

जानकारी के मुताबिक यह प्रकोप चीन के वुहान शहर (Wuhan city) के एक समुद्री भोजन बाजार में एक्सपोजर के साथ जुड़ा हुआ है। 1 जनवरी 2020 को बाजार को बंद कर दिया गया था। इस स्तर पर, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के बीच कोई संक्रमण नहीं है, और मानव से मानव संचरण के लिए कोई स्पष्ट सबूत नहीं है। चीनी अधिकारी गहन निगरानी के अपने काम को जारी रखे हैं और  उपायों का पालन कर रहे हैं, साथ ही आगे की महामारी विज्ञान संबंधी जांच भी कर रहे हैं।

चीनी अधिकारियों द्वारा WHO को 11 और 12 जनवरी को दी गई जानकारी के अनुसार, वुहान शहर में नए कोरोनवायरस वायरस के संक्रमण के 41 मामलों का निदान किया गया है। बताए गए 41 मामलों में से सात गंभीर रूप से बीमार हैं। जबकि जब एक की मृत्यु, अन्य अंतर्निहित स्वास्थ्य स्थितियों के साथ सूचित की गई। छह मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

41 मामलों की पुष्टि, 8 दिसंबर 2019 से 2 जनवरी 2020 के मध्य हुई। 1 जनवरी 2020 के बाद से कोई अतिरिक्त मामलों का पता नहीं चला है।

वुहान शहर चीन का एक प्रमुख घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय परिवहन केंद्र है। डब्ल्यूएचओ के दस्तावेज के मुताबिक आज तक, वुहान सिटी के बाहर कोई भी मामला दर्ज नहीं किया गया है।

पाठकों सेअपील - “हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें
 

3 Replies to “सावधान ! चीन और थाईलैंड में नए खतरनाक कोरोना वायरस का पता चला, डब्ल्यूएचओ ने सतर्क किया”

Leave a Reply