Home » समाचार » देश » Corona virus In India » जानिए कोरोना से उबरने के बाद स्वाद और गंध कब लौटेगी

जानिए कोरोना से उबरने के बाद स्वाद और गंध कब लौटेगी

कोविड-19 महामारी से संक्रमित होने के बाद लोगों में एनोस्मिया गंधज्ञानाभाव,loss of the sense of smell,कोरोना से उबरने के बाद स्वाद और गंध कब लौटेगी,COVID-19-संबंधित एनोस्मिया,COVID-19–related anosmia

कोरोना से उबरने के बाद स्वाद और गंध को वापस आने में लग सकता है एक साल का समय : अध्ययन

Know when the taste and smell will return after recovering from Corona

After recovering from corona, it may take a year for taste and smell to return: study

नई दिल्ली 27 जून 2021| क्या आप कोरोनावायरस महामारी से उबर चुके हैं और उसके बाद सूंघने और स्वाद लेने की आपकी क्षमता चली गई है? तो हालिया एक शोध में बताया गया है कि इसे वापस लौटने में एक साल का समय लग सकता है। वर्ष 2020 की शुरूआत से फैली कोविड-19 महामारी से संक्रमित होने के बाद लोगों में सूंघने और स्वाद लेने में दिक्कत आने की समस्या (COVID-19–related anosmia) देखी गई। इसका लोगों की जिंदगी पर काफी असर पड़ा।

Study published in jama open network covid

जामा नेटवर्क ओपन में गुरुवार को प्रकाशित अध्ययन Clinical Outcomes for Patients With Anosmia 1 Year After COVID-19 Diagnosis के अनुसार, फ्रांस में स्ट्रासबर्ग के यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल्स के शोधकतार्ओं ने कोरोना से पीड़ित 97 मरीजों का निरीक्षण किया, जिनमें पूरे एक साल तक के लिए स्वाद लेने और सूंघने की क्षमता चली गई थी।

Methods of study

हर चार महीने में इन पर एक सर्वेक्षण किया गया।

97 में से 51 मरीजों को खुद पर गंभीरता से ध्यान रखने को कहा गया, ताकि जैसे ही उनमें सूंघने या स्वाद लेने की क्षमता वापस आए, वे इसकी जानकारी शोधकतार्ओं को दे सके। आठवें महीने में 51 में से 49 मरीजों ने पाया कि अब वे पूरी तरह से ठीक हो गए हैं। उनमें सूंघने और स्वाद लेने की क्षमता वापस आ गई है।

बाकी बचे दो रोगियों में एक, जो पूरी तरह से ठीक नहीं हुआ था, वह सूंघने में तो सक्षम था, लेकिन सही तरीके से नहीं। दूसरा मरीज शोध के अंत तक भी सूंघने में सक्षम नहीं हो पाया था। जबकि बाकी के 46 कोविड रोगियों को ऑब्जेक्टिव टेस्टिंग में से होकर नहीं गुजरना पड़ा। इन्होंने पूरे एक साल के बाद पूरी तरह से ठीक हो जाने की सूचना दी।

अध्ययन का निष्कर्ष कहता है कि लगातार COVID-19-संबंधित एनोस्मिया ((गंधज्ञानाभाव – the loss of the sense of smell, either total or partial. It may be caused by head injury, infection, or blockage of the nose.)) में 1 वर्ष में लगभग पूरी तरह से ठीक होने के साथ एक उत्कृष्ट रोग का निदान है। चूंकि चिकित्सक पोस्ट-कोविड सिंड्रोम वाले लोगों की बढ़ती संख्या का प्रबंधन करते हैं, इसलिए सूचित पूर्वानुमान और परामर्श के लिए दीर्घकालिक परिणामों पर डेटा की आवश्यकता होती है।

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

political prisoner

“जय भीम” : जनसंघर्षों से ध्यान भटकाने का एक प्रयास

“जय भीम” फ़िल्म देख कर कम्युनिस्ट लोट-पोट क्यों हो रहे हैं? “जय भीम” फ़िल्म आजकल …

Leave a Reply