Home » Latest » उच्च रक्तचाप नियंत्रित करने के घरेलू नुस्खे

उच्च रक्तचाप नियंत्रित करने के घरेलू नुस्खे

क्या आप जानते हैं उच्च रक्तचाप के शिकार लोगों को पूरी नींद लेना चाहिए?  इस समाचार में जानिए उच्च रक्तचाप नियंत्रित करने के दादी नानी के कुछ घरेलू नुस्खे. साथ ही जानिए उच्च रक्तचाप में आपको क्या उपयोग करना चाहिए?

Home remedies to control high blood pressure

उच्च रक्तचाप का शिकार हुए लोगों को नमक कम खाना चाहिए, कॉफी और चाय का सेवन कम से कम करना चाहिए। साथ ही डिब्बा बंद खाद्य पदार्थ, नमकीन, बिस्किट, चिप्स या कोई भी पैक्ड फूड नहीं खाना चाहिए।

उच्च रक्तचाप का शिकार हुए लोगों को खासतौर से धूम्रपान और शराब से दूर रहना चाहिए। उन्हें चटनी, आचार, अजीनोमोटो और सॉस से दूरी बनाकर रखना चाहिए

उच्च रक्तचाप का शिकार हुए लोगों को कम फैट वाला खाना खाना चाहिए पूड़ी, पराठा से दूरी बनाकर रखें।

उच्च रक्तचाप का शिकार हुए लोगों को पूरी नींद क्यों लेना चाहिए? Why should people with high blood pressure get enough sleep?

सोते वक्त रक्तचाप कम होता है इसलिए नींद पूरी लेना चाहिए गुस्से से दूर रहिए, कोशिश करिए कि तनाव भरे माहौल से दूर रहें। इसके लिए आप मेडिटेशन और योग का सहारा भी ले सकते हैं।

इन सभी बातों को ध्यान में रखकर आप बीपी बढ़ने से रोक सकते हैं.

उच्च रक्तचाप में क्या उपयोग करना चाहिए? | What to use in high blood pressure?

उच्च रक्तचाप में आपको निम्न चीजों का उपयोग करना चाहिए ..

एक चम्मच काली मिर्च पाउडर को गुनगुने पानी में घोल लें, और ये पानी दो-दो घंटे में पीते रहना चाहिए

·         उच्च रक्तचाप के नियंत्रण में तरबूज काफी लाभदायक है। तरबूज के बीज का सेवन करना चाहिए

·         उच्च रक्तचाप के मरीज अगर नंगे पांव हरी घास पर 10-15 मिनट चलें तो उनका रक्तचाप सामान्य हो जाता है।

·         पालक और गाजर का जूस पीने से भी रक्तचाप नियंत्रित रहता है।

·         मेथीदाना पाउडर सुबह-शाम पानी के साथ लेने पर रक्तचाप नियंत्रित रहता है।

·         अनार और टमाटर का जूस पीने से भी रक्तचाप नियंत्रित रहता है।

·         चुकंदर और मूली को छीलकर इसका जूस बनाकर पिएं, इससे भी रक्तचाप नियंत्रित रहता है।

·         करेला और सहजन की सब्जी खाएं, इससे हाई बीपी कंट्रोल करने में मदद मिलती है.

·         सुबह खाली पेट लहसुन खाएं।

·         आंवले के रस में शहद मिलाकर सुबह शाम लें।

·         जब बीपी बढ़ा हो तो एक गिलास पानी में आधा नींबू निचोड़कर तीन-तीन घंटे के अंतर पर पिएं।

·         पाँच तुलसी के पत्ती और दो नीम की पत्तियों को पीस लें। इसे एक गिलास पानी में घोल लें और सुबह खाली पेट पिएं।

अगर आपका रक्तचाप 140 से ऊपर है और सीने में दर्द और भारीपन महसूस हो और सांस लेने में परेशानी हो। सिर दर्द हो और धुंधला दिखाई दे और कमजोरी फील हो तो बिना देर किए डॉक्टर से परामर्श करें। क्योंकि ये कभी भी घातक स्थिति में पहुंच सकता है।

नोट – यह समाचार किसी भी हालत में चिकित्सकीय परामर्श नहीं है। यह समाचारों में उपलब्ध सामग्री के अध्ययन के आधार पर जागरूकता के उद्देश्य से तैयार की गई अव्यावसायिक रिपोर्ट मात्र है। आप इस समाचार के आधार पर कोई निर्णय कतई नहीं ले सकते। स्वयं डॉक्टर न बनें किसी योग्य चिकित्सक से सलाह लें।) 

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

political prisoner

“जय भीम” : जनसंघर्षों से ध्यान भटकाने का एक प्रयास

“जय भीम” फ़िल्म देख कर कम्युनिस्ट लोट-पोट क्यों हो रहे हैं? “जय भीम” फ़िल्म आजकल …

Leave a Reply