Home » Latest » जानिए टीवी एंकर के रूप में कैसे बनाएं कॅरियर

जानिए टीवी एंकर के रूप में कैसे बनाएं कॅरियर

न्यूज़ एंकरिंग क्या है? अच्छे एंकर कैसे बनें? एक अच्छे एंकर का काम क्या है, एंकरिंग की बुनियादी जानकारियां, न्यूज़ एंकर बनने के लिए आवश्यक गुण. विभिन्न संस्थान जहां से एंकरिंग की ट्रेनिंग ली जा सकती है

TV Anchor kaise bane-टीवी एंकरिंग में करियर

आज मनोरंजन से भरपूर वर्तमान दौर में टेलीविजन रोजगार का बेहतर माध्यम बन गया है। भाषा पर आपकी पकड़ हो, सामान्य ज्ञान दुरुस्त हो और साथ ही लुक भी आकर्षक हो, तो आप टीवी एंकर बन सकते हैं। इसके तहत जहां न्यूज एंकर के रूप में अवसर मिलते हैं, वहीं लाइफस्टाइल के तहत विभिन्न कार्यक्रमों के संचालन के लिए भी ऐसे एंकर की जरूरत बनी रहती है।

न्यूज़ एंकरिंग क्या है? What is news anchoring in Hindi ?

जब भी हम किसी टीवी एंकर के बारे में सोचते हैं तो मन में यही सवाल आता है कि इस क्षेत्र में नौकरी करना काफी आसान होता है। टीवी पर एंकरिंग करना कोई आसान काम नहीं होता तथा इस क्षेत्र में पैसा कमाना भी आसान काम नहीं है।

अच्छे एंकर कैसे बनें

टीवी एंकरिंग करनी हो या किसी रेडियो में शो होस्ट करना हो दोनों में काफी मेहनत करनी पड़ती है। एंकरिंग करने के लिए हमें अनेक बातों का ख्याल रखना पड़ता है। एक अच्छे एंकर का काम (job of a good anchor) दर्शकों को चैनल से जोड़े रखना होता है। आजकल टीवी पर एंकरिंग करना एक फैशन बन गया है, लेकिन टीवी पर एंकरिंग करनी हो या रेडियो शो होस्ट करना या फिर किसी मैच की लाइव कमेंट्री करना, इस सबके लिए छात्रों के पास विशेष योग्य का होना अनिवार्य है। इसके साथ ही एक आकर्षक आवाज तथा आत्मविश्वास का होना भी अनिवार्य होता है। 

टेलीविजन कार्यक्रमों और विभिन्न व्यावसायिक, सांस्कृतिक कार्यक्रमों के प्रस्तुतिकरण में टेलीविजन एंकर की भूमिका महत्वपूर्ण होती है। इस क्षेत्र में प्रवेश के लिए किसी औपचारिक डिग्री की आवश्यकता नहीं होती, किंतु हिन्दी व अँग्रेजी भाषा पर पूरा अधिकार अवश्य होना चाहिए। टीवी एंकरिंग के लिए कुछ चैनल्स कोर्स भी चलाते हैं। अपनी सुविधानुसार टीवी एंकरिंग में सर्टिफिकेट कोर्स नये और अनुभवी प्रोफेशनल दोनों कर सकते हैं। इस कोर्स में आप जानेंगे टीवी न्यूज चैनल की कार्यप्रणाली, टेलीप्रॉम्पटर का इस्तेमाल, स्टूडियो लाईट्स, अपनी आवाज को कैसे निखारें और कैसे बने स्टाईलिश एंकर।

एंकरिंग पाठ्यक्रम

एंकरिंग की बुनियादी जानकारियां (Basic knowledge of anchoring)

टीवी न्यूज़ चैनलों की दुनिया

स्टूडियो की बुनियादी जानकारी

आवाज़ को निखारें

कैसे बने स्टाईलिश एंकर

जॉब इंटरव्यू की कैसे करें तैयारी

एंकर टिप्स | anchor tips

आत्मविश्वास के साथ टीवी स्क्रीन पर आना।

टीवी न्यूज चैनल के विषय में

जब आप स्टूडियों में पहुंचें तो क्या उम्मीद रखें

आवाज को कैसे निखारें

टीवी ड्रेस कोड और कैसे आप अपना स्टाइल बनाएं

योग्यता

इस कोर्स में सफल होने के लिए 12वीं की परीक्षा किसी मान्य संस्थान से पास की हो। छात्र हिंदी भाषा में निपुण हो। यह बात कोई मायने नहीं रखती है कि आपका बैकग्राउंड क्या है या आपकी योग्यता क्या है, यह ऑनलाइन क्लास आपको टेलीविजन न्यूज़ एंकर की बुनियादी चीजों को क्रमवार ढंग से सिखाएगी।

टीवी एंकर के गुण | न्यूज़ एंकर बनने के लिए आवश्यक गुण ?

एक अच्छा टीवी एंकर बनने के लिए आपके पास स्पष्ट आवाज का होना बहुत ही जरूरी होता है। इसके अलावा तकनीकी प्रणाली (technical system) को समझने की योग्यता होना भी अनिवार्य होता है।

स्क्रिप्टिंग और पत्रकारिता की जानकारी | Scripting and journalism knowledge | पटकथा और पत्रकारिता ज्ञान

कई बार तो टीवी एंकरिंग करने के लिए स्क्रिप्ट भी खुद ही लिखनी पड़ती है। ऐसे में आपके पास पत्रकारिता की जानकारी होना अनिवार्य है। 

एक अच्छा एंकर बनने के लिए आपके पास मधुर आवाज के साथ-साथ कुशल संचालन योग्यता होनी चाहिए। जिससे आप आसानी से एंकरिंग कर सकेंगे।

टीवी एंकर बनने के अवसर

आजकल काफी लोग टीवी एंकर बनने के लिए इससे सम्बंधित पाठ्यक्रम (courses) करते हैं। छात्रों को इस क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए अनेक विकल्प मिल जाते हैं। यदि आपने टीवी एंकरिंग कोर्स (TV anchoring course) किया है तो आप भी इस क्षेत्र में अपना कैरियर आसानी से बना सकते हैं। आजकल टीवी में अनेक प्रकार के शो आते हैं। आप चाहे तो टीवी में होने वाले शोज में भी आप जॉब के लिए कोशिश कर सकते हैं।

विभिन्न संस्थान जहां से एंकरिंग की ट्रेनिंग ली जा सकती है | Various institutes from where anchoring training can be taken

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन, नई दिल्ली

एनआरएआई स्कूल ऑफ मास कम्युनिकेशन, नई दिल्ली

आई एएएन स्कूल ऑफ मास कम्युनिकेशन, न्यू दिल्ली

एशियाई अकादमी ऑफ फिल्म एंड टेलीविज़न, नोएडा

सेण्टर फॉर रिसर्च इन आर्ट ऑफ़ फिल्म एंड टेलीविज़न, न्यू दिल्ली

इंटरनेशनल इंस्टिट्यूट फॉर मीडिया एंड फिल्म , जयपुर

नेशनल स्कूल ऑफ़ इवेंट्सएट मुम्बई, इंदौर, एंड कोलकाता

ओस्मानिया यूनिवर्सिटी कॉलेज फॉर वीमेन, हैदराबाद

भारतीय विद्या भवन, न्यू दिल्ली

गार्डन सिटी कॉलेज, बंगलुरू.

(स्रोत -देशबन्धु)

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

entertainment

कोरोना ने बड़े पर्दे को किया किक आउट, ओटीटी की बल्ले-बल्ले

Corona kicked out the big screen, OTT benefited सिनेमाघर बनाम ओटीटी प्लेटफॉर्म : क्या बड़े …

Leave a Reply