Home » Latest » सरकार जासूसी के बारे में सब कुछ जानती थी, इसीलिए जानकारी नहीं मांग रही : चिदंबरम

सरकार जासूसी के बारे में सब कुछ जानती थी, इसीलिए जानकारी नहीं मांग रही : चिदंबरम

पेगासस जासूसी विवाद,Pegasus spy controversy

 Govt knew everything about espionage, that’s why not asking for information: Chidambaram

नई दिल्ली, 26 जुलाई 2021: राजनेताओं, पत्रकारों और अन्य लोगों पर पेगासस जासूसी विवाद (Pegasus spy controversy) के बीच, पूर्व गृह मंत्री पी. चिदंबरम ने आरोप लगाया कि सरकार जासूसी के बारे में सबकुछ जानती थी।

चिदंबरम ने एक ट्वीट में कहा,

फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रोन ने इजराइल के पीएम बेनेट को फोन किया और फ्रांस में फोन हैक करने के लिए पेगासस स्पाइवेयर के कथित इस्तेमाल के बारे में पूरी जानकारी की मांग की।”

उन्होंने आरोप लगाया कि एकमात्र सरकार जो चिंतित नहीं है वह भारत सरकार है,

क्या ऐसा इसलिए है क्योंकि सरकार जासूसी के बारे में पूरी तरह से अवगत थी और उसे इजराइल या एनएसओ समूह से और जानकारी की आवश्यकता नहीं है?”

उधर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को पेगासस को हथियार बताया था और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग की थी।

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट से जांच कराने की भी मांग की।

संसद के बाहर मीडिया को संबोधित करते हुए, राहुल गांधी ने कहा, “पेगासस को इजरायल राज्य द्वारा एक हथियार के रूप में वगीर्कृत किया गया है और उस हथियार का इस्तेमाल आतंकवादी के खिलाफ किया जाना चाहिए। प्रधान मंत्री (नरेंद्र मोदी) और केंद्रीय गृह मंत्री ने इस हथियार का इस्तेमाल भारतीय राज्य और हमारी संस्थाओं के खिलाफ किया है।”

उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने इसका राजनीतिक इस्तेमाल किया।

उन्होंने आरोप लगाया कि कर्नाटक में इसका इस्तेमाल किया है, उन्होंने इसका इस्तेमाल जांच में बाधा डालने के लिए किया है, उन्होंने इसका इस्तेमाल सुप्रीम कोर्ट और इस देश के सभी संस्थानों के खिलाफ किया है।

null
 

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

news

एमएसपी कानून बनवाकर ही स्थगित हो आंदोलन

Movement should be postponed only after making MSP law मजदूर किसान मंच ने संयुक्त किसान …

Leave a Reply