जब सपा और कांग्रेस का एक साथ प्रचार किया था दिलीप कुमार ने

 बदायूँ, 07 जुलाई 2021. सदी के महानायक दिलीप कुमार अब हमारे बीच नहीं रहे, उनकी बदायूँ से भी यादें जुड़ी हुई हैं।

1996 के लोकसभा चुनाव में दिलीप कुमार समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी सलीम इकबाल शेरवानी के समर्थन में चुनाव प्रचार करने आए थे। अपनी जनसभा में उन्होंने वायदा किया था कि शेरवानी के जीतने पर वो दोबारा बदायूँ आएंगे, लेकिन उनका यह वायदा भी शेरवानी के अन्य वायदों की तरह गलत साबित हुआ। शेरवानी तो चुनाव जीते पर दिलीप कुमार पलट कर बदायूँ नहीं आए।

गांधी ग्राउंड में सलीम शेरवानी के समर्थन में हुई सभा में दिलीप कुमार ने अपने संबोधन में कहा था कि वह देश के सेकुलर लोगों के लिए चुनाव लड़ाने निकले हैं, उन्हें पार्टी से कोई लेना देना नहीं। इसके बाद वह रामपुर में कांग्रेस प्रत्याशी बेगम नूर बानो के लिए चुनाव प्रचार को निकल गए थे।

चित्र में सलीम शेरवानी के साथ पूर्व विधायक स्व. जोगेन्द्र सिंह अनेजा, ओमकार सिंह यादव दिखाई दे रहे हैं और साथ में समाजवादी अल्पसंख्यक सभा के जिला अध्यक्ष मोहम्मद मियां दिखाई दे रहे हैं, जो उस समय समाजवादी युवजन सभा के नगर अध्यक्ष थे।

मोहम्मद मियां ने कहा है कि सरल स्वभाव मिलनसार अभिनेता दिलीप कुमार की हमेशा याद आती रहेगी

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner