एक ही संकल्प, कांग्रेस ही विकल्प के नारों से गूंजी राजधानी

उत्तर प्रदेश की अराजक कानून व्यवस्था के खिलाफ प्रियंका गांधी ने दिया मौन धरना. उत्तर प्रदेश में संविधान को नष्ट कर हो रहा लोकतंत्र का चीरहरण - प्रियंका गांधी
 | 
Priyanka Gandhi at Lucknow

 जन नेता के रूप में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का लखनऊ पहुचंने पर भव्य स्वागत

एयरपोर्ट से लेकर कांग्रेस मुख्यालय तक जनता ने की पुष्पवर्षा

उत्तर प्रदेश की अराजक कानून व्यवस्था के खिलाफ प्रियंका गांधी ने दिया मौन धरना

उत्तर प्रदेश में संविधान को नष्ट कर हो रहा लोकतंत्र का चीरहरण - प्रियंका गांधी 
कोरोना की दूसरी लहर में कराया गया पंचायत चुनाव, यह कैसा विकासवाद है - प्रियंका गांधी

लखनऊ 16 जुलाई 2021. कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा के पूर्वनिर्धारित लखनऊ आगमन पर कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने एयरपोर्ट से लेकर प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय तक ढोल, नगाड़ों की थाप और गगनभेदी नारों के साथ अपनी नेता का जगह-जगह भव्य स्वागत किया, सड़कों पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ उमड़ी जनता ने उनके स्वागत में पलक पावड़े बिछाकर पुष्पवर्षा के साथ एक जननेता के रूप में उनका भव्य स्वागत किया कई स्थानों पर महिलाओ युवतियों ने भावविभोर कर देने वाला स्वागत किया।

कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने अपनी नेता के स्वागत में कोई कोर कसर बाकी नहीं रखी जबर्दस्त भीड़ और उसका उत्साह देखते बन रहा था, और उनका नारा एक ही संकल्प केवल कांग्रेस विकल्प उनके जोश को नयी ऊंचाई दे रहा था।

एयरपोर्ट से बाहर आते ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्षअजय कुमार लल्लू, राष्ट्रीय सचिवधीरज गुर्जर, कांग्रेस विधान मण्डल दल की नेता श्रीमती आराधना मिश्रा (मोना) विधान परिषद में कांग्रेस के नेतादीपक सिंह पूर्व मंत्रीनसीमुद्दीन सिद्दीकी, राष्ट्रीय सचिवरोहित चौधरी,ज़ुबैर खान,तौकीर आलम, विधान परिषद में दल नेता दीपक सिंह, विधानमंडल दल नेता श्रीमती आराधना मिश्रा, प्रदेश उपाध्यक्षवीरेंद्र चौधरी, विश्वविजय सिंह, अशोक सिंह, अनूप गुप्ता, सिद्धार्थ प्रिय श्रीवास्तव, मीडिया संयोजक ललन कुमार, डिजिटल मीडिया संयोजक अनूप पटेल, युवा कांग्रेस के अध्यक्ष ओमवीर यादव, कनिष्क पाण्डेय, एनएसयूआई अध्यक्ष अखिलेश यादव, अनश रहमान, रोहित राना, महिला कांग्रेस अध्यक्ष ममता चौधरी, करिश्मा ठाकुर, शैला अहरारी, सेवा दल अध्यक्ष प्रमोद पाण्डेय, ओबीसी विभाग अध्यक्ष मनोज यादव, अल्पसंख्यक विभाग अध्यक्ष शहनवाज आलम, दिनेश सिंह आदि नेताओ सहित हजारों कार्यकर्ताओं ने अगवानी कर भव्य स्वागत किया।

एयरपोर्ट से बाहर निकल कर मुख्यमार्ग पर आते ही सड़कों पर मौजूद जनता ने रोक रोक कर स्वागत किया,शहीद पथ मोड़,पीएसी,स्कूटर इंडिया,पुरानी मौरंग मंडी, आलमबाग नहरिया, आलमबाग तिराहा,आलमबाग बस अड्डा,आलमबाग थाना, मवैय्या, ब्लंट स्क्वायर, दुर्गापुरी, चारबाग बस अड्डा, केकेसी, विकास दीप, हुसैन गंज चौराहा,बर्लिंगटन चौराहा, रॉयल होटल,बापू भवन, विधानसभा मुख्यद्वार व जीपीओ पर भव्य स्वागत के उपरांत हजरत गंज स्थित राष्ट्रपिता बापू की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उनको नमन कर श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए उत्तर प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था के खिलाफ श्रीमती गांधी ने महात्मा गांधी के चरणें में बैठकर मौन व्रत किया। गांधी प्रतिमा लखनऊ में उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव में हुइ हिंसा और प्रदेश में जंगलराज, भय के माहौल के खिलाफ मौन व्रत के दौरान यूपी पुलिस को लिखकर जवाब दिया। उन्होंने लिखा कि कोविड तो पंचायत चुनाव के समय भी था।

जिसके बाद उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय नेहरू भवन पहुंचकर मीडिया को सम्बोधित करते हुए उन्होंने मोदी और योगी सरकार पर जमकर हमला बोला। श्रीमती गांधी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में संविधान को नष्ट करने और लोकतंत्र का चीरहरण करने का काम किया है। पंचायत चुनाव का परिणाम उस तरह आपके पक्ष में नहीं आया तो अब जब जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लाक प्रमुख के चुनाव में सरकार ने हिंसा करवा दी। आपकी पुलिस ने उम्मीदवारों का अपहरण् किया, महिला उम्मीदवारों से मारापीट और उनके वस्त्र भी खीचें गये। सरकार पर निशाना साधते हुए श्रीमती प्रियंका गांधी जी ने कहा कि मोदी जी के सर्टिफिकेट से यूपी में कोरोना में दूसरी लहर के दौरान योगी सरकार की आक्रामक क्रूरता, लापरवाही और अव्यवस्था की सच्चाई छिपाई नहीं जा सकती। मीडिया सम्बोधन के बाद कांग्रेस कार्यालय में लगी पूर्व प्रधानमंत्री स्व.श्रीमती इंदिरा जी की प्रतिमा का अनावरण किया। उत्तर प्रदेश के विभिन्न किसान यूनियन के प्रतिनिधियों, प्रदेश कार्यकारिणी के पदाधिकारियों, जिला एवं शहर अध्यक्षों के साथ बैठक की।

 कार्यक्रम के दौरान पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी, विधान मण्डल दल नेता आराधना मिश्रा (मोना), विधान परिषद सदस्य दीपक सिंह जी, विधायक नरेश सैनी, सुहैल अंसारी, पूर्व विधायक अजय राय, प्रदीप माथुर, पूर्व सांसद राकेश सचान, पीएल पुनिया, नूर बानों, एआईसीसी सेक्रेटरी बाजीराव खाड़े, राजेश तिवारी, तौकीर आजम, धीरज गुर्जर जी, सहित सतीश अजमानी, श्याम किशोर शुक्ल, ओंकार नाथ सिंह, ओबैद नासिर, अमर नाथ अग्रवाल, अनूप पटेल, लालन कुमार, सूचि विश्वास, प्रियंका गुप्ता, हिलाल नकवी, अंशू अवस्थी, उमाशंकर पांडेय, के के पांडेय, सचिन रावत, तनुज पुनिया, आस्था तिवारी, विकास श्रीवास्तव, सुधांशू बाजपेयी, आशीष अवस्थी, अभिषेक बाजपेयी, श्रीमती रफत फातिमा, विशाल राजपूत, अभिषेक राज, आरपी राजन, जिलाध्यक्ष वेद प्रकाश त्रिपाठी, शहर अध्यक्ष अजय कुमार अज्जू व दिलप्रीत सिंह,शनवाज खान, अख्तर मलिक, शिव पाण्डेय, मनोज यादव, आचार्य मनोज मिश्रा, प्रमोद सिंह, राशि साहू, शैलेन्द्र तिवारी, पंकज तिवारी, अनूप गुप्ता, चन्द्रप्रकाश, वीरेन्द्र चौधरी, तरूण पटेल, योगेश दीक्षित,ज्ञानेश शुक्ला, विवेकानंद पाठक, शौरवीर सिंह, नितिश गौड, चौधरी सतवीर, विजय बहादुर, देवेन्द्र प्रताप सिंह, शिवा दुबे, आरती बाजपेयी, शंकरलाल गौतम, राजेश सिंह काली, पुष्पेन्द्र श्रीवास्तव, प्रमोद पाण्डेय, सोनू पंडित,सुबोध श्रीवास्तव, रेहान खान, जिला शहर अध्यक्ष वेद प्रकाश त्रिपाठी, अजय श्रीवास्तव (अज्जू), दिलप्रीत सिंह आदि प्रमुख रूप से मौजूद थे।

पाठकों से अपील

Donate to Hastakshep

नोट - 'हस्तक्षेप' जनसुनवाई का मंच है। हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

OR

भारत से बाहर के साथी Pay Pal के जरिए सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं।

Subscription