यूपी में बारह हजार किमी 'प्रतिज्ञा यात्रा' निकालेगी कांग्रेस

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस अगले साल की शुरूआत में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले 'हम वचन निभाएंगे' टैगलाइन के साथ 'कांग्रेस प्रतिज्ञा यात्रा' निकालेगी।
 | 
Priyanka Gandhi at Lucknow

Congress will take out twelve thousand km 'Pratigya Yatra' in UP

लखनऊ, 10 सितम्बर 2021: उत्तर प्रदेश में कांग्रेस अगले साल की शुरूआत में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले 'हम वचन निभाएंगे' टैगलाइन के साथ 'कांग्रेस प्रतिज्ञा यात्रा' निकालेगी।

Priyanka Gandhi at Lucknow

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा दो दिवसीय यात्रा पर लखनऊ में हैं। इस दौरान उन्होंने कहा कि यात्रा 12,000 किलोमीटर की दूरी तय करेगी और सभी प्रमुख गांवों और कस्बों से होकर गुजरेगी।

यात्रा की तारीख अभी तय नहीं है, हालांकि सूत्रों का कहना है कि इसके 2 अक्टूबर को गांधी जयंती से शुरू होने की संभावना है।

यूपीसीसी की सलाहकार और राजनीतिक मामलों की समिति की एक बैठक को संबोधित करते हुए, उन्होंने कहा कि यात्रा राज्य भर में पार्टी कार्यकतार्ओं को जुटाएगी और लोगों के साथ संपर्क भी स्थापित करेगी।

यात्रा के दौरान होने वाले कार्यक्रमों का फैसला चरणों में होगा।

बाद में दिन में प्रियंका चुनाव समिति के साथ बैठक करेंगी और विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की चयन प्रक्रिया पर फैसला करेंगी।

सूत्रों के अनुसार

  • ज़ोनवार चुनावी अभियान और कार्यक्रमों शुरू करेगी कांग्रेस
  • कांग्रेस सलाहकार समिति और रणनीति कमेटी ने पूरे उप्र में यात्रा निकालने का लिया निर्णय
  • हम वचन निभाएंगे नाम से होगी कांग्रेस प्रतिज्ञा यात्रा
  • 12 हज़ार किलोमीटर चलेगी कांग्रेस प्रतिज्ञा यात्रा
  • बड़े गांवों और कस्बों से होकर गुजरेगी यात्रा
  • यात्रा के दौरान होने वाले कार्यक्रमों की रूपरेखा तय कर रहीं हैं प्रियंका गांधी
  • यात्राओं के रूट और मुद्दों पर महासचिव ले रहीं हैं सलाहकार और रणनीति कमेटी के सदस्यों से सलाह
  • सलाहकार और रणनीति कमेटी के बैठक के बाद प्रदेश चुनाव कमेटी के साथ होगी बैठक

पाठकों से अपील

Donate to Hastakshep

नोट - 'हस्तक्षेप' जनसुनवाई का मंच है। हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

OR

भारत से बाहर के साथी Pay Pal के जरिए सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं।

Subscription