Home » हस्तक्षेप » आपकी नज़र » “नरेंद्र मोदी की दुम” नीतीश कुमार के बयान से हर बिहारी शर्मसार ।
Patna: Bihar Chief Minister Nitish Kumar addresses during a programme in Patna on Jan 7, 2019. (Photo: IANS)

“नरेंद्र मोदी की दुम” नीतीश कुमार के बयान से हर बिहारी शर्मसार ।

नीतीश कुमार शर्म करें और माफी माँगें

Nitish Kumar be ashamed and apologize

पुष्पराज

जो लोग मुख्यधारा की मीडिया की खबरों को जल्दी भूलते नहीं हैं, उन्हें स्मरण होगा कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल की चुनावी सभा में केरल को सोमालिया होने से बचाने के लिए भाजपा को वोट देने की अपील की थी। नरेंद्र मोदी के उस “सोमालिया- केरल” भाषण पर केरल की भाजपा को भी शर्मसार होना पड़ा था। भाजपा के तमाम थिंक टैंक अवाक हो गए थे। मैं समझ रहा हूँ कि “बिहार को दिल्ली से बेहतर” साबित करने और “केजरीवाल ने दिल्ली में कुछ नहीं किया” जैसा वक्तव्य नीतीश कुमार के राजनीतिक जीवन का सबसे कमजोर और बेवकूफी भरा बयान है।

मैं नीतीश कुमार के इस वक्तव्य की तुलना नरेंद्र मोदी के “केरल को सोमालिया होने से बचाने” वाले वक्तव्य से करना चाहता हूँ।

नीतीश कुमार वर्षों से पटना से बाहर अपने राज्य में भी वायु मार्ग से ही सफर करते हैं इसलिए उन्हें पैदल-भारत का हकीकत पता नहीं।

मयूर विहार के फुटपाथ पर स्वादिष्ट चिकेन तंदूरी बेचने वाले प्रमोद मधुबनी के निवासी हैं। उनने पिछले हफ्ते मुझसे कुछ बातें साझा कीं। मुझसे कहा- भैया हमारा मुख्यमंत्री देखिए बिहार में हमारे बच्चों को जाड़ में कुकुर बनाकर सड़क पर खड़ा कर दिया है और अपने हेलिकॉप्टर से मानव-श्रंखला का तमेशा देख रहा है। आ इधर देखिए कि केजरीवाल सड़क जाम में फंस गया तो आज नॉमिनेशन ना कर पाया।

मैंने पूछा कि केजरीवाल बकलोल है हो। मुख्यमंत्री जाम में फंस कर नॉमिनेशन नै करेगा तो ई लोग का भला क्या करेगा।

बकौल प्रमोद- “भैया नीतीश कुमार लाठी चलवा कर सड़क पर ढुकने से पहले सड़क खाली करवा लेते आ नालन्दा जाना होता तो उतना दूर काहे सड़क से जाकर हरान होते, उड़ के फुर्र पहुँच जाते। दिल्ली का मुख्यमंत्री तो भैया कभी हवाई जहाज से लोगों को नै ताकता है। आ भैया ई नीतीश कुमार त धरती पर गोरे नै रोपता है।”

प्रमोद बताते हैं कि भैया केजरीवाल से पहले पुलिस वाला हमलोगों को एतना तंग करता था, पूछिए नै। रोज टाका भी बाँधे हुए था, ऊपर से जब जेतना मन हुआ खा लिया। केजरीवाल के आने के बाद केतना पुलिसवाला सस्पेंड हुआ। अब तो हमलोगों को कोय बिहारिया नै बोलता है। लोकल दादा लोग के सामने हम्हीं लोग दादा हैं भैया। पुलिस वाले भी पैसा देकर खाते हैं। केजरीवाल तो हम बिहारी गरीब को सड़क का राजा बना दिया है।

प्रमोद की जुबान ही बिहार उत्तर प्रदेश के गरीब रिक्शा चालक, लाखों ऑटो चालक और ई रिक्शा चालक बोलते हैं।

ऑटो वाले कहते हैं कि दिल्ली की सड़क पर दिल्ली पुलिस का जुर्माना, डंडा और माई-बहन सब केजरीवाल ने बंद करा दिया। गाली देने वाले कई सिपाहियों को तो हमलोगों ने पटक- पटक कर मारा है। दिल्ली की सड़क पर केजरीवाल राज में हम बिहरिया नहीं, दिल्लीवाले की शान से अकड़ कर चलते हैं। केजरीवाल ने हमलोगों से एक ही बात कही है कि अगर तुम सड़क पर कानून का पालन नहीं करोगे या  किसी सवारी के साथ गलत व्यवहार करोगे तो केजरीवाल की नाक कटाओगे फिर हम तुम्हारी मदद नहीं कर पाएंगे। दिल्ली में हम बिहारियों की नाक केजरीवाल, केजरीवाल की नाक हम बिहारी- यूपी वाले।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

badal saroj

मनासा में “जागे हिन्दू” ने एक जैन हमेशा के लिए सुलाया

कथित रूप से सोये हुए “हिन्दू” को जगाने के “कष्टसाध्य” काम में लगे भक्त और …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.