Home » L S Hardenia

L S Hardenia

एल.एस. हरदेनिया, (लेखक वरिष्ठ पत्रकार व धर्मनिरपेक्षता के प्रति प्रतिबद्ध कार्यकर्ता हैं)

सुनो मोदीजी, यदि कश्मीर मामले में नेहरू दिलचस्पी न लेते तो कश्मीर पाकिस्तान का हिस्सा बन जाता

Sardar Patel Baba Saheb Ambedkar Jawahar Lal nehru on Kashmir issue

कश्मीर मुद्दे पर नेहरू-पटेल के बीच बुनियादी मतभेद नहीं थे There were no fundamental differences between Nehru and Patel on the Kashmir issue. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और संघ परिवार कश्मीर समस्या (Kashmir problem) के लिए मुख्य रूप से जवाहरलाल नेहरू को दोषी मानते हैं और बार-बार यह दावा करते हैं कि यदि कश्मीर का मसला सरदार …

Read More »

बकरीद और गांधी

Mahatma Gandhi statue in the Parliament premises. (File Photo: IANS)

बकरीद का त्यौहार हिन्दू व मुसलमानों को एक तरह की चिंता की स्थिति में डाल देता है। ऐसा नहीं होना चाहिए। हमें सहनशील होना चाहिए। हिन्दू, मुसलमानों के त्यौहारों में क्यों दखल देते हैं? मुसलमान बकरीद के दिन पशुओं की बलि देते हैं। इन पशुओं में गाय भी शामिल है। परंतु मुसलमानों को गाय की बलि क्यों चढ़ानी चाहिए जब …

Read More »

स्वाधीनता की महायात्रा : इतिहास से नेहरूजी को मिटाकर, मोदी को कुछ नहीं मिलेगा बल्कि ऐसा करने से वे एक एहसानफरामोश नेता समझे जायेंगे

How much of Nehru troubled Modi

स्वतंत्रता दिवस (Independence day) के अवसर पर यदि हम अभी तक की महायात्रा का मूल्यांकन करते हैं तो हमारे मस्तिष्क में गरीबी, भुखमरी, निरक्षरता, स्वास्थ्य सेवाओं का अभाव और कमजोर वर्ग के लोगों को इज्जत के साथ न रहने की स्थितियां नजर आती हैं। इसके अतिरिक्त हमारे मस्तिष्क में यह विचार भी आता है कि कुछ लोग योजनाबद्ध तरीकों से …

Read More »

कश्मीर के प्रश्न पर हमें अमेरिका और ब्रिटेन ने लगातार ब्लैकमेल किया

L. S. Hardenia

अभी हाल में लोकसभा में भाषण देते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री एवं भाजपा अध्यक्ष श्री अमित शाह (Speech by Shri Amit Shah, Union Home Minister and BJP President in Lok Sabha) ने कश्मीर समस्या (Kashmir problem) के लिए पंडित जवाहरलाल नेहरू (Pandit jawaharlal nehru) को दोषी ठहराया -विशेषकर उस स्थिति के लिए जिसमें एक तिहाई कश्मीर हमारे हाथ से निकल गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister …

Read More »

रोहिंग्या को तो छोड़ो भारत में रहने वाले कुछ हिन्दुओं को निकाला तो कौन शरण देगा ?

L. S. Hardenia

म्यांमार से रोहिंग्या मुसलमानों के निष्कासन (Rohingya Muslims expelled from Myanmar) ने अनेक महत्वपूर्ण प्रश्नों को जन्म दिया है। इस संदर्भ में सबसे बड़ा महत्वपूर्ण प्रश्न यह है कि किसी देश की सरकार मनमाने ढंग से यदि वहां बरसों से बसे नागरिकों को देश निकाला (Expelled citizens) कर दे तो वे कहां जाएं? कुछ मामलों में इस तरह के निष्कासित …

Read More »

पर संघ ने तो हिन्दू कोड बिल पर नेहरू और डॉ. अम्बेडकर के विरूद्ध जहरीला प्रचार किया था

RSS Half Pants

एल.एस. हरदेनिया सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) ने अपने एक ऐतिहासिक निर्णय में तीन तलाक (Tripple Talaq) देने की परंपरा को समान अधिकार के सिद्धांत का विरोधी माना है। दिनांक 22 अगस्त को दिए गए फैसले में तलाक को संविधान-विरोधी और मानवाधिकार-विरोधी माना है। तलाक के मुद्दे की सुनवाई के लिए पांच न्यायाधीशों की बेंच बनी थी इसमें तीन न्यायाधीशों ने …

Read More »

न लगता आपातकाल तो संघी भारत को बना देते पाकिस्तान, जानें संघ ने इंदिरा से माँगी थी माफी

Indira Gandhi

एल.एस. हरदेनिया प्रतिवर्ष के अनुसार भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (Rashtriya Swayamsevak Sangh) ने 25 जून (25th of June) को देशभर में आपातकाल (Emergency) को लेकर शोर मचाया और आपातकाल को भारतीय इतिहास का काला पृष्ठ बताया। परंतु भाजपा आपातकाल से जुड़े ऐसे तथ्यों को उजागर नहीं करती है जिनके कारण तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी …

Read More »