Home » शेष नारायण सिंह

शेष नारायण सिंह

शेष नारायण सिंह वरिष्ठ पत्रकार हैं। वह हस्तक्षेप के संरक्षक हैं।

शेष नारायण सिंह का आलेख – कांग्रेस को सशक्त विपक्ष की भूमिका अदा करनी ही पड़ेगी

Shesh Narain Singh शेष नारायण सिंह

कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी (Congress President Rahul Gandhi) इस्तीफा दे चुके हैं, उनको मनाने की कोशिशें अब तक नाकाम रही हैं लेकिन अब कौन कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष हो, इस बात पर अभी एक राय नहीं बन पाई है। ज्यादातर लोग मानते हैं कि कांग्रेस का अध्यक्ष किसी ऐसे व्यक्ति को बनाया जाना चाहिए जो पार्टी को फिर से …

Read More »

पंडित नेहरू का जमाना जब डर दिखा कर वोट लेना बहुत गलत काम माना जाता था

How much of Nehru troubled Modi

आजादी के शुरुआती पन्द्रह वर्षों में जवाहरलाल नेहरू (Jawahar Lal Nehru) ने जो बुनियाद डाली उसी का नतीजा है किस आज दुनिया में भारत का सर ऊंचा है। वरिष्ठ पत्रकार व हस्तक्षेप.कॉम के संरक्षक शेष नारायण सिंह (Shesh Narain Singh) का यह लेख 25 जनवरी 2014 को प्रकाशित हुआ था। यह लेख आज भी प्रासंगिक है। हस्तक्षेप के पाठकों की …

Read More »

‘न्याय, सुरक्षा आजादी, मांगे आधी आबादी‘ से देश की शान्ति को कौन सा खतरा था सरकार जी

News Analysis and Expert opinion on issues related to India and abroad

इसी नवम्बर में मौजूदा कुलपति जीसी त्रिपाठी का कार्यकाल पूरा हो रहा है। वे एक टर्म और चाहते हैं। दिल्ली दरबार में फेरी भी लगा रहे हैं। आरएसएस का समर्थन उनको पहले से ही है।

Read More »

30 साल का “सहमत”

Shesh Narain Singh शेष नारायण सिंह

सफदर हाशमी मेमोरियल ट्रस्ट -Safdar Hashmi Memorial Trust (सहमत) के तीस साल पूरे हो गए। इन तीस वर्षों में सहमत ने संस्कृति के मोर्चे (Culture front) पर फासिस्ट ताकतों (Fascist forces) के खिलाफ एक बहुत बड़े वर्ग को मंच दिया है। इस साल भी 1 जनवरी 2019 को सहमत की तरफ से एक सांस्कृतिक उत्सव का आयोजन किया गया है। सहमत …

Read More »

भारत उन ग्यारह देशों में, जहां दुनिया के हेपेटाइटिस के आधे मरीज़ रहते हैं

Shesh Narain Singh शेष नारायण सिंह

पूरी दुनिया में हेपेटाइटिस को खत्म करने का अभियान चल रहा है। मई 2016 में वर्ल्ड हेल्थ असेम्बली ने ग्लोबल हेल्थ सेक्टर स्ट्रेटेजी आन वाइरल हेपेटाइटिस 2016-2020 का प्रस्ताव पास किया था। संयुक्त राष्ट्र ने 25 सितम्बर को अपने प्रस्ताव संख्या A/RES/70/1 में इस प्रस्ताव को सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स को शामिल किया था।

Read More »

श्रद्धेय मोदीजी ! देशद्रोही हैं महात्मा गांधी के हत्यारे को हीरो बनाने वाले

Godse's glorification in Gandhi's country?

शेष नारायण सिंह महात्मा गांधी की शहादत (Martyrdom of mahatma gandhi) को सत्तर साल हो गए। महात्मा गांधी की हत्या (Assassination of Mahatma Gandhi) जिस आदमी ने की थी वह कोई अकेला इंसान नहीं था। उसके साथ साज़िश में भी बहुत सारे लोग शामिल थे और देश में उसका समर्थन करने वाले भी बहुत लोग थे। वह एक विचारधारा का …

Read More »

राजपूती आन बान और शान वालों क्या गरीब राजपूतों की भी सुध ली जाएगी?

Economics of Padmavati Controversy

आज एक सिनेमा के विरोध के नाम पर जो नेता आन्दोलन की अगुवाई कर रहे हैं क्या उनको अपने गिरेबान में झांक कर नहीं देखना चाहिए कि लड़कियों को सम्मान की सरंकर देने में समाज और सरकार का भी कुछ योगदान होता है।

Read More »

प्रेस की आज़ादी : क्या योगी और वसुंधरा भी प्रधानमंत्री की नसीहत से सबक लेंगे !

Shesh Narain Singh शेष नारायण सिंह

पत्रकारिता के बुनियादी सवालों पर नए विचार की ज़रूरत Need a new idea on journalistic fundamental questions शेष नारायण सिंह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चेन्नई में एक तमिल अखबार के कार्यक्रम में मीडिया को समाज को बदलने का साधन बताकर अभिव्यक्ति की आजादी को फिर चर्चा में ला दिया है। प्रधानमंत्री ने चेन्नई में कहा कि ‘आज समाचारपत्र सिर्फ खबर …

Read More »

टीबी, मलेरिया और एड्स से कम खतरनाक नहीं हेपेटाइटिस

Hepatitis

एक जानलेवा बीमारी है हेपेटाइटिस – Hepatitis A Deadly Disease शेष नारायण सिंह 28 जुलाई विश्व हेपेटाइटिस (July 28 World Hepatitis Day) दिवस है। लीवर की यह बीमारी पूरी दुनिया में बहुत ही खतरनाक रूप ले चुकी है। दुनिया में ऐसे 11 देश हैं जहां हेपेटाइटिस के मरीज़ सबसे ज़्यादा हैं। हेपेटाइटिस के मरीजों का 50 प्रतिशत ब्राजील,चीन, मिस्र, भारत, इंडोनेशिया, …

Read More »

मेरी पहली मुहब्बत : मेरा नीम का पेड़

Shesh Narain Singh शेष नारायण सिंह

मेरी पहली मुहब्बत : मेरा नीम का पेड़ शेष नारायण सिंह नीम की चर्चा होते ही पता नहीं क्या होता है कि मैं अपने गांव पहुंच जाता हूँ। बचपन की पहली यादें ही नीम से जुड़ी हुई हैं। मेरे गाँव में नीम एक देवी के रूप में स्थापित हैं। गाँव के पूरब में अमिलिया तर वाले बाबू साहेब की ज़मीन …

Read More »