Home » समाचार » दुनिया » बिग ब्रेकिंग : क्या कश्मीर में फेल हो रही सरकार ? आतंकवादियों ने की पांच गैर-कश्मीरी मजदूरों की हत्या
Breaking news

बिग ब्रेकिंग : क्या कश्मीर में फेल हो रही सरकार ? आतंकवादियों ने की पांच गैर-कश्मीरी मजदूरों की हत्या

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकवादियों ने की पांच गैर-कश्मीरी मजदूरों की हत्या, एक घायल

5 Non-Kashmiri Labourers Killed By Terrorists In Jammu And Kashmir’s Kulgam

नई दिल्ली, 29 अक्तूबर 2019. प्राप्त समाचार के मुताबिक कश्मीर (Kashmir) में आतंकियों ने पांच मजदूरों को मौत के घाट उतार दिया है. आतंकवादियों (Terrorists) ने इस अमानवीय हरकत को कुलगाम जिले में अंजाम दिया है।

Amit Shah’s claim has been proved wrong, That terrorism has ended with the abolition of Article 370.

फिलहाल मिली जानकारी से सामने आया है कि ये सभी मजदूर बाहरी थे और कश्मीर में मजदूरी करके अपने परिवार का पालन-पोषण करते थे। इस तरह से जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिए जाने के बाद यहां आतंकियों द्वारा मारे गए लोगों की कुल संख्या बढ़कर 11 हो गई है। इसके साथ ही केंद्र सरकार खासकर गृह मंत्री अमित शाह का या दावा गलत साबित हुआ है कि अनुच्छेद 370 समाप्त होने से आतंकवाद समाप्त हो गया है।

वरिष्ठ पत्रकार व स्तंभकार शिवम विज ने एनडीटीवी की खबर का लिंक शेयर करते हुए ट्वीट किया –

“जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में मंगलवार को हुए आतंकी हमले में पांच मजदूर मारे गए और एक अन्य घायल हो गया। पीड़ितों में से कोई भी स्थानीय नहीं था …

मोदी सरकार असहाय, अपने अनुच्छेद 370 के कदम के बाद घबराहट ने आतंकवाद को हवा दे दी है।“

अनंतनाग जिले में कल आतंकवादियों द्वारा एक ट्रक चालक की हत्या कर दी गई थी। जम्मू और कश्मीर के विशेष दर्जे की समाप्ति के बाद गैर-स्थानीय लोगों के खिलाफ हिंसा में वृद्धि हो रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 23 यूरोपीय संघ के सांसदों का एक प्रतिनिधिमंडल श्रीनगर में राज्य की स्थिति का आकलन करने के लिए पहुंचा, जब केंद्र ने 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 के तहत अपनी विशेष स्थिति को समाप्त कर दिया था। शहर पूरी तरह से बंद था और कम से कम चार लोग उनकी यात्रा के आगे घाटी के विभिन्न हिस्सों में प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा कर्मियों के बीच कई झड़पों में घायल हो गए।

About हस्तक्षेप

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: