आपकी नज़र

Heart

प्रेम सिर्फ प्रेमी-प्रेमिका के प्रेम तक सीमित नहीं है

आनंद प्रधान हमारे समय में प्रेम Love in our time आज वैलेंटाइन डे (Valentine’s Day) है. प्रेम और उसके इजहार का दिन. लेकिन क्या प्रेम सिर्फ प्रेमी और प्रेमिका तक सीमित है? या प्रेम इससे…


Health news

धुएं में बदल देगा धुआं – आलोक तोमर

देश के जाने माने पत्रकार आलोक तोमर (Alok Tomar) ने आज यहाँ अपने आवास पर शुक्रवार दिनांक 11 फरवरी 2011 को आईएमसीएफ़जे (IMCFJ) की तरफ से इंडिया इंटरनेशनल सेंटर (India International Center) में होने वाली वर्कशाप और तम्बाकू…


opinion

जिंदगी झंड बा, फिर भी घमंड बा

कुछ राज्यों के अपने अपने वाक्य होते हैं। इन वाक्यों का भी कारोबारीकरण कर दिया गया है। बहुत सारी वजहों से यह वाक्य आम तौर सुनाई नहीं देते। अब सोचिए किसने सोचा होगा कहना कि…



BBC

समाचार जगत की महात्रासदी : बी बी सी रेडियो सेवा बंद होना

Major tragedy of news world: BBC radio service shut down बी बी सी अर्थात, ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन के प्रमुख पीटर हॉक्स (Peter Hawkes, head of the British Broadcasting Corporation) द्वारा की गई एक अप्रत्याशित घोषणा…


No Image

प्रेम और दैहिक स्पर्श से बड़ा कोई सुख नहीं

प्रेम यह एक ऐसा शब्द है जो चिर प्राचीन मगर चिर नवीन भी है। यह जादुई आकर्षण से अपनी तरफ खींचता है। प्रेम की परिभाषा और व्याख्या के अनेक रूप हैं और दैहिक सुख को माना…


opinion debate

दिग्विजय का हमला और आरएसएस का बचाव,दोनों ही लोकतंत्र को मजबूती देंगें

आरएसएस के खिलाफ दिग्विजय सिंह की मुहिम एक ऊंचे दर्जे की राजनीति है आरएसएस की हमेशा कोशिश रही है कि वह अपने आपको गैर राजनीतिक मंच के रूप में पेश करे. लेकिन सच यह है…


rashtriya swayamsevak sangh

आर एस एस ने 1948 में तिरंगे को पैरों तले रौंदा था ?

आरएसएस ने 1948 में तिरंगे को पैरों तले रौंदा था ? नई दिल्ली। श्रीनगर के लाल चौक पर झंडा फहराने की भाजपा की राजनीति पूरी तरह से उल्टी पड़ चुकी है। भाजपा की अगुवाई वाले राजग…


Jagadishwar Chaturvedi

हम साहि‍त्‍य से प्‍यार करने लगे और धर्म से नफरत, इस प्रक्रि‍या में पहले हाथ से धर्म गया अब साहि‍त्‍य भी जा रहा

हिंदी के बुद्धि‍जीवि‍यों में धर्म ‘इस्‍तेमाल करो और फेंको’ से ज्‍यादा महत्‍व नहीं रखता। अधि‍क से अधि‍क वे इसके साथ उपयोगि‍तावादी संबंध बनाते हैं। धर्म इस्‍तेमाल की चीज नहीं है। धर्म मनुष्‍यत्‍व की आत्‍मा है…


No Image

ये लो राजद्रोह, वो लो राजद्रोह

डॉ. बिनायक सेन, नारायण सान्याल और पीयूष गुहा को छत्तीसगढ़ के ज़िला न्यायालय में जिन आधारों पर राजद्रोही करार देते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई, उनको देश के अधिकांश प्रगतिशील नागरिकों ने बेबुनियाद बताते हुए…