दुनिया

National News

लेखक को हर हाल में सच का साथ देना चाहिए- फहमीदा रियाज़

Meet with Fahmida Riaz फहमीदा रियाज़ के साथ तीन दिन की मुलाकातें इलाहाबाद की यादों में हमेशा दर्ज रहेंगी। आठ, नौ और दस नवम्बर के दिन, दोपहर और शामें उनकी मौजूदगी से गुलज़ार रहे। यह…


nelson mandela

अब मौत को चुनौती दे रहे हैं ब्रिटिश हुकूमत को ललकारने वाले मंडेला

अगले महीने नेल्सन मंडेला (Nelson Mandela) 95 साल के हो जायेंगे। उनकी तबियत बहुत खराब है। अस्पताल में आठ जून को भर्ती किये गये थे और तब से ही उनका स्वास्थ्य “स्थिर लेकिन गम्भीर” बना…


Literature news साहित्य

अपने समय की खराबी के विरुद्ध कविता लिखता है हर जिम्मेदार कवि

मदानी में हुआ कविता का चर्चा नया जमाना ऐसा ही है यहाँ हिसाब किताब होता है नफा घाटा का यहाँ कारोबार होता है सदा किनबेचका तुम आ चुके हो बाजार के इस मूल धार में…


opinion debate

तालिबान अब केवल धर्म की नहीं बल्कि सत्ता की बात भी करने लगे हैं

क्या हैं तालिबानों की क्रूरता के कारण ? What are the reasons for the Taliban’s cruelty ? तालिबान के शाब्दिक अर्थ (Literal meaning of taliban) तो वैसे इच्छुक, चाहने वाला अर्थात् तलबगार आदि के होते…


national news

आजादी के बाद तिगुनी बढ़ी आबादी

11 जुलाई, विश्व जनसंख्या दिवस पर विशेष (Special on 11th July, World Population Day) आजादी के बाद देश की जनसंख्या में भारी वृद्धि हुई है। मसलन 64 वर्ष पूर्व व आज की जनसंख्या में तीन…


Environment and climate change

सुरक्षित नहीं जल, जंगल और जमीन

05 जून विश्व पर्यावरण दिवस पर विशेष | Special on world environment day in Hindi राख के कटोरे में तब्दील हो जाएगा धान का कटोरा जंगलों में पेड़ों की अंधाधुंध कटाई (Indiscriminate cutting of trees…


खेल समाचार, आईपीएल न्यूज, क्रिकेट, क्रिकेट समाचार, Sports News, IPL News, Cricket, Cricket News,

और भी ग़म है जमाने में क्रिकेट के सिवा

वैसे तो क्रिकेट के दसवें विश्व कप (Cricket’s Tenth World Cup,) का आग़ाज़ 19 फरवरी को भारत और बांग्लादेश के बीच खेले गए मैच (Matches played between India and Bangladesh) से 19 फरवरी को हुआ…


World news

लाशों के साए में लीबिया में लोकतंत्र की तलाश

लीबिया में कर्नल गद्दाफी के 41 साला अधिनायकवादी शासन के खिलाफ जनता सड़कों पर निकल आयी है। वहां पर गद्दाफी और उनके परिवार का एकछत्र शासन है और किसी भी किस्म के प्रतिवाद, अपील, वकील,…


No Image

मोहब्बत और इन्कलाब के शायर फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ (1911-1984)

जश्ने फै़ज़ सदी तारीख – 13 फरवरी 2011 (इतवार) समय- शाम 5 बजे जगह- रोटरी क्लब हॉल, (मुल्ला रमूज़ी भवन और पलाष हॉटल के बीच में, भोपाल) बोल के लब आजाद हैं तेरे……….. *     फैज़…