Home » Demonstration outside Congress & BJP offices to demand passage of Grievance Redress Bill

Demonstration outside Congress & BJP offices to demand passage of Grievance Redress Bill

Demonstration at 12 noon outside Congress office & 3 pm outside BJP office on Feb. 10 & 11 to demand passage of Whistleblowers Protection Bill and Grievance Redress Bill
Dear friends,

The first week of Parliament saw frequent disruptions because of which no serious business was transacted. The Whistleblowers Protection Bill and the Grievance Redress Bill were listed for discussion and passage but were not taken up in either house of Parliament.

Leaders of key political parties- Rahul Gandhi, Arun Jaitley, Ravi Shankar Prasad, D. Raja- have assured people that these bills are top priority, but no progress has been made towards passing these bills.

The next few days are critical for the passage of these bills, as they will lapse when the current session of Parliament ends. We will, therefore, be holding demonstrations outside the Congress office and the BJP office in the coming week.

On Monday (10/2/2014) and Tuesday (11/2/2014), we will hold demonstrations outside the Congress office (24, Akbar Road) at 12 noon. In the afternoon, at 3 pm, we will proceed to the BJP office (11 Ashoka Road). In the evening, we will culminate with a candle light vigil for whistleblowers who have lost their lives, outside both the party offices.

Please join us for the demonstrations.

The plan for public action for Wednesday onwards will be emailed tomorrow.

Please join us in large numbers and share this widely.
In solidarity,

Anjali Bhardwaj, Aruna Roy, Nikhil Dey, Amrita Johri (9810273984)
(On behalf of the National Campaign for Peoples’ Right to Information)

About हस्तक्षेप

Check Also

भारत में 25 साल में दोगुने हो गए पक्षाघात और दिल की बीमारियों के मरीज

25 वर्षों में 50 फीसदी बढ़ गईं पक्षाघात और दिल की बीमांरियां. कुल मौतों में से 17.8 प्रतिशत हृदय रोग और 7.1 प्रतिशत पक्षाघात के कारण. Cardiovascular diseases, paralysis, heart beams, heart disease,

Bharatendu Harishchandra

अपने समय से बहुत ही आगे थे भारतेंदु, साहित्य में भी और राजनीतिक विचार में भी

विशेष आलेख गुलामी की पीड़ा : भारतेंदु हरिश्चंद्र की प्रासंगिकता मनोज कुमार झा/वीणा भाटिया “आवहु …

राष्ट्रीय संस्थाओं पर कब्जा: चिंतन प्रक्रिया पर हावी होने की साजिश

राष्ट्रीय संस्थाओं पर कब्जा : चिंतन प्रक्रिया पर हावी होने की साजिश Occupy national institutions : …

News Analysis and Expert opinion on issues related to India and abroad

अच्छे नहीं, अंधेरे दिनों की आहट

मोदी सरकार के सत्ता में आते ही संघ परिवार बड़ी मुस्तैदी से अपने उन एजेंडों के साथ सामने आ रहा है, जो काफी विवादित रहे हैं, इनका सम्बन्ध इतिहास, संस्कृति, नृतत्वशास्त्र, धर्मनिरपेक्षता तथा अकादमिक जगत में खास विचारधारा से लैस लोगों की तैनाती से है।

National News

ऐसे हुई पहाड़ की एक नदी की मौत

शिप्रा नदी : पहाड़ के परम्परागत जलस्रोत ख़त्म हो रहे हैं और जंगल की कटाई के साथ अंधाधुंध निर्माण इसकी बड़ी वजह है। इस वजह से छोटी नदियों पर खतरा मंडरा रहा है।

Ganga

गंगा-एक कारपोरेट एजेंडा

जल वस्तु है, तो फिर गंगा मां कैसे हो सकती है ? गंगा रही होगी कभी स्वर्ग में ले जाने वाली धारा, साझी संस्कृति, अस्मिता और समृद्धि की प्रतीक, भारतीय पानी-पर्यावरण की नियंता, मां, वगैरह, वगैरह। ये शब्द अब पुराने पड़ चुके। गंगा, अब सिर्फ बिजली पैदा करने और पानी सेवा उद्योग का कच्चा माल है। मैला ढोने वाली मालगाड़ी है। कॉमन कमोडिटी मात्र !!

Entertainment news

Veda BF (वेडा बीएफ) पूर्ण वीडियो | Prem Kahani – Full Video

प्रेम कहानी - पूर्ण वीडियो | वेदा BF | अल्ताफ शेख, सोनम कांबले, तनवीर पटेल और दत्ता धर्मे. Prem Kahani - Full Video | Veda BF | Altaf Shaikh, Sonam Kamble, Tanveer Patel & Datta Dharme

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: