कैंसर का सबब बन सकती है एंटासिड रेनिटिडिन, स्वास्थ्य चेतावनी जारी

नई दिल्ली, 25 सितम्बर 2019. ड्रग कंट्रोलर ऑफ इंडिया ने रेनिटिडिन पर सार्वजनिक स्वास्थ्य चेतावनी (Drug Controller of India public health warning on ranitidine) जारी की है और कहा है कि इसमें ऐसे रसायन पाए जाते हैं, जिससे कैंसर हो सकता है। कई अन्य देशों के ड्रग रेगुलेटर ने भी इसमें हानिकारक रसायन पाएं और इसे अपने यहां प्रतिबंधित किया है। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय (Directorate General of Health Services) के अधीन ड्रग्स कंट्रोलर, वी. जी. सोमानी (Drugs Controller, V.G. Somani) ने सभी राज्यों को निर्देश जारी कर रेनिटिडिन को लेकर चेतावनी जारी की है और कहा कि वे मरीजों की सुरक्षा के लिए सभी ड्रग निर्माताओं से कदम उठाने के कहें।

CNBCTV18 के एक ट्वीट के मुताबिक, सूत्रों ने CNBC TV18 की एंकर एकता बत्रा (@ekta_batra) को बताया है कि ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने राज्य के दवा नियामकों को Ranitidine उत्पादों को सत्यापित करने के लिए कहा है।

क्या है रेनिटिडिन What is ranitidine

रेनिटिडिन एक सस्ते दाम में मिलनेवाला बहुत पुरानी दवा है, जिसका इस्तेमाल पेट की एसिडिटि को कम करने के लिए किया जाता है। रेनिटिडिन दवा का उपयोग देश में कई लक्षणों के इलाज में किया जाता है और यह अलग-अलग फोर्मूलेशन में टैबलेट और इंजेक्शन के रूप में उपलब्ध है। यह सेड्युल एच के तहत प्रेसक्रिप्शन ड्रग है, यानी इसे दवाई की दुकान से खरीदने के लिए डाक्टर की पर्ची की जरूरत होती है।

इस दवाई में कैंसर के कारकों (Cancer factors in ranitidine) का पता सबसे पहले अमेरिका की एफडीए ने लगाया था और इस संबंध में अलर्ट जारी किया था। भारत में इस दवाई का उत्पादन करने वाली कंपनियों को तुरंत प्रभाव से इस दवा का उत्पादन रोकने के लिए कहा गया है।

ड्रग कंट्रोलर के निर्देशों के तहत डाक्टरों को यह सलाह जारी की गई है कि वे इस दवाई को मरीजों को लेने की सलाह ना दें।