Home » हस्तक्षेप » आपकी नज़र » मोदीजी इंदिरा जी कुर्बानी को छिपा नहीं सकते, श्री मती गांधी की कुर्बानी तो देश की फिक्स्ड डिपोजिट है
Indira Gandhi

मोदीजी इंदिरा जी कुर्बानी को छिपा नहीं सकते, श्री मती गांधी की कुर्बानी तो देश की फिक्स्ड डिपोजिट है

मोदीजी इंदिरा जी कुर्बानी को छिपा नहीं सकते, श्री मती गांधी की कुर्बानी तो देश की फिक्स्ड डिपोजिट है

Modiji cannot hide Indira ji sacrifice

कल्पना कीजिए आज के ही दिन श्रीमती इंदिरा गांधी की हत्या (Assassination of indira gandhi) के बजाय किसी आरएसएस सदस्य पीएम की हत्या हुई होती तो क्या आज मोदी सरकार पटेल पटेल जप रही होती ?

मोदी सरकार से अपील है कम से कम पूर्व पीएम की शहादत की उपेक्षा न करे। हम लगातार यह नीचतापूर्ण हरकत देख रहे हैं कि पालतू कुत्ते की तरह मीडिया और सरकारी तंत्र श्रीमती इंदिरा गांधी की शहादत को उतना महत्व नहीं दे रहा जितना देना चाहिए।

मोदी सरकार जान ले शहादत बेकार नहीं जाती, कुर्बानी को छिपा नहीं सकते। श्री मती गांधी की कुर्बानी तो देश की फिक्स्ड डिपोजिट है।

श्रीमती इंदिरा गांधी की योजना जिस विचारधारा ने बनायी थी उसी विचारधारा ने सिख जनसंहार की भी योजना बनायी थी। गांधी की हत्या और -सिख नरसंहार एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। दोनों ही हत्याएं निंदनीय हैं।

जगदीश्वर चतुर्वेदी

About जगदीश्वर चतुर्वेदी

जगदीश्वर चतुर्वेदी। लेखक कोलकाता विश्वविद्यालय के अवकाशप्राप्त प्रोफेसर व जवाहर लाल नेहरूविश्वविद्यालय छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष हैं। वे हस्तक्षेप के सम्मानित स्तंभकार हैं।

Check Also

Ajit Pawar after oath as Deputy CM

जनतंत्र के काल में महलों के षड़यंत्रों वाली दमनकारी राजशाही है फासीवाद, महाराष्ट्र ने साबित किया

जनतंत्र के काल में महलों के षड़यंत्रों वाली दमनकारी राजशाही है फासीवाद, महाराष्ट्र ने साबित …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: