Home » समाचार » छद्म राष्ट्रवादी पार्टी का कश्मीर छोड़कर भागना 2019 की रणभेरी

छद्म राष्ट्रवादी पार्टी का कश्मीर छोड़कर भागना 2019 की रणभेरी

छद्म राष्ट्रवादी पार्टी का कश्मीर छोड़कर भागना 2019 की रणभेरी

अब भक्त अलापेगें धारा 370  का राग !

मंजुल भारद्वाज

कर्नाटक ने विकास, लोकप्रियता, EVM की अनुकम्पा और शाह की थैलियों के नाटक का पर्दाफाश कर नेपथ्य में गए विपक्ष को चुनावी बिसात के मंच पर लामबंद कर दिया. इस विपक्षी एकता के फ़ोटो भर से 56इंची जुमलेबाज़ और तड़ीपार के होश उड़ गए. कैराना तक आते-आते हताश गृहमंत्री को बयान देना पड़ा कि लम्बी रेस जीतने के लिए थोड़ा बैकफुट पर आना पड़ता है. नैया डूबती देख नागपुर ने सबसे संवाद के विशाल दर्शन की आड़ में भूतपूर्व राष्ट्रपति को अपने कार्यक्रम में बुलाकर ‘अपने आप’ को बचाने का खेल शुरू किया ताकि मौसम बदलने पर बेरुखी ना झेलनी पड़े, क्योंकि 4 साल सत्ता की मलाई काटी है.

छद्म राष्ट्रवादी पार्टी कश्मीर छोड़कर भागी!

जुमलेबाज़ के फील्ड मार्शल केएम करिअप्पा और जनरल के थिमैया के झूठ और तड़ीपार की थैलियों को कर्नाटक ने नकारने के बाद नागपुर ने कमान सम्भाल ली है. नागपुर के रिमोट कंट्रोल के आदेश पर ईद के बाद तुरंत कश्मीर से भागने के फ़ैसले पर अमल किया गया ताकि भक्त अब अपना गला साफ़ कर धारा 370 का राग अलाप सकें!

दरअसल 77 विदेशी दौरों के बावजूद भारत की साख अंतर्राष्टीय स्तर पर गिरी है. सयुंक्त राष्ट्र संघ ने हमारी सेना की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाये हैं. नेपाल के साथ नरम-गरम व्यवहार, चीन के सामने घुटने टेक याचना, डोकलाम पर चुप्पी और पाकिस्तान ने तो इतना इनको उलझा रखा है कि इनको कहीं निकलने का रास्ता नहीं मिल रहा. नोटबंदी से चौपट हुई अर्थव्यवस्था, बेरोज़गारी, महिलाओं और बच्चियों पर यौन हमले, किसानों की खस्ता हालत और आत्म हत्या, पेट्रोल डीजल की आसमान छूती कीमतें, रूपये का गिरता स्तर, भ्रष्टाचार को चार चाँद लगाते हुए विजय माल्या और नीरव मोदी गैंग विदेशों में ‘मोदी’ का नाम रोशन कर रहे हैं. विकास कहीं खो गया है या देश छोड़कर पाकिस्तान की शरण में चला गया है. सबका साथ रोज़ दलितों के दमन और गोकशी के नाम पर विशेष समुदाय की भीड़ द्वारा हत्या की ख़बरों से स्वयं गोदी मीडिया भरा पड़ा है.

ऐसे हालत में सुप्रीम कोर्ट के दीपक के सहारे ‘राम’ मन्दिर का दिया ‘दिवाली’ के आसपास जलाने का नियोजन है, धारा 370, कश्मीर हमारा अभिन्न अंग है, पड़ोसी के साथ युद्ध और हिंदुत्व 2019 की जीत के लिए नए नागपुरी मन्त्र हैं.

जनता लोकसभा चुनाव 2019 के लिए सावधान!

सावधान देश के मतदाताओं ये छद्म राष्ट्रवादी पार्टी, अवसरवादी 56इंची जुमलेबाज़ सत्ता के लिए सिर्फ़ देश को बाँट सकते हैं, जोड़ नहीं सकते.. विकास तो दूर की बात है!

About हस्तक्षेप

Check Also

media

82 हजार अखबार व 300 चैनल फिर भी मीडिया से दलित गायब!

मीडिया के लिये भी बने कानून- उर्मिलेश 82 thousand newspapers and 300 channels, yet Dalit …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: