Home » हस्तक्षेप » आपकी नज़र » मोदी जी, अगर आरएसएस आज़ादी की लड़ाई में शामिल नहीं थी तो इसमें कांग्रेस या किसी और का क्या दोष
The Prime Minister, Shri Narendra Modi addressing the Nation on the occasion of 73rd Independence Day from the ramparts of Red Fort, in Delhi on August 15, 2019
The Prime Minister, Shri Narendra Modi addressing the Nation on the occasion of 73rd Independence Day from the ramparts of Red Fort, in Delhi on August 15, 2019 Photo PIB

मोदी जी, अगर आरएसएस आज़ादी की लड़ाई में शामिल नहीं थी तो इसमें कांग्रेस या किसी और का क्या दोष

मोदी जी, अगर आरएसएस आज़ादी की लड़ाई में शामिल नहीं थी तो इसमें कांग्रेस या किसी और का क्या दोष

मोदी एक ऐसे प्रधानमंत्री हैं जो आदतन झूठ बोलते हैं

झूठ का पर्दाफाश

प्रशांत टंडन

कल मोदी का भाषण सुना. लगा कि ठीक होने जगह इनकी झूठ बोलने के बीमारी में इजाफा हो रहा है. प्रधानमंत्रियों या जिम्मेदार पदों पर बैठे लोगो के बयानों पर पहले भी विवाद उठते रहे हैं. उनके कही बातों का पक्ष और विपक्ष दोनों रहा है. लेकिन मोदी एक ऐसे प्रधानमंत्री हैं जो आदतन झूठ बोलते हैं और प्रधानमंत्री के पद का देश की जनता को गुमराह करने का काम कर रहे हैं.

अगर आरएसएस आज़ादी की लड़ाई में शामिल नहीं थी तो इसमे कांग्रेस या किसी और का क्या दोष है. और इसे छुपाने के लिये आप रोज़ सौ झूठ बोलोगे तो क्या इतिहास में लिखा मिटा पाओगे.

ज़रूरत है एक मुहिम के तहत इनके झूठ का पर्दाफ़ाश करने की और सच को जनता के सामने रखने की.

मेरा सुझाव है 15 जनवरी से 30 जनवरी तक एक मुहिम चलाई जाये सोशल और डिजिटल मीडिया में, देश के कई शहरों में जन सभायें और प्रदर्शनियां लगा कर जिसमे आज़ादी की लड़ाई के गद्दारों का पर्दाफ़ाश किया जाये. दस्तावेज़, तस्वीरों और ऐतिहासिक तथ्यों को जनता के सामने रख ये बताया जाये कि जब भगत सिंह फांसी पर झूल रहा था तब अंग्रेजों के साथ कौन खड़ा था, किसने की थी चन्द्रशेखर आजाद के खिलाफ मुखबिरी, जब क्रातिकारी जेल जा रहे तो कौन अंग्रेजों का गवाह बन रहा था.

जल्द ही इस बारे में बैठक बुलाऊंगा. बहुत से लोगों को अलग-अलग शहरों से इसमें जोड़ना होगा. सुझाव आमंत्रित हैं.

(प्रशांत टंडन, वरिष्ठ पत्रकार हैं, उनकी एफबी टाइमलाइन से साभार)

ये आलेख भी अवश्य पढ़ें और शेयर करें
हिंदुत्व को मुल्क और इंसानियत के लिए सबसे बड़ा खतरा बता रहे थे नेता जी, पढ़िए उनका भाषण

सुभाष चंद्र बोस और भगवा परंपरा : जानिए संघी आजादी और नेता जी से डरते क्यों थे

Will PM Modi’s commemoration of Provisional

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

About हस्तक्षेप

Check Also

Ajit Pawar after oath as Deputy CM

जनतंत्र के काल में महलों के षड़यंत्रों वाली दमनकारी राजशाही है फासीवाद, महाराष्ट्र ने साबित किया

जनतंत्र के काल में महलों के षड़यंत्रों वाली दमनकारी राजशाही है फासीवाद, महाराष्ट्र ने साबित …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: