गैर-कांग्रेसवाद

debate, thought, analysis,

आज लोहिया होते तो गैर भाजपावाद का आह्वान करते

अगर आज लोहिया होते तो… ‘जिंदा कौमें पांच साल इंतजार नहीं करतीं.’ गैर-कांग्रेसवाद के जनक और समाजवादी चिंतक डॉ. राम मनोहर लोहिया का यह कथन आज की सरकारों के लिए भी उतना ही प्रासंगिक है…