Home » Tag Archives: देशद्रोह (page 3)

Tag Archives: देशद्रोह

राष्ट्रवाद की खातिर संविधान को ताक पर रखने में क्या ऐतराज है?

Amit Shah Narendtra Modi

अजमेर, 08 अगस्त 2019. ऐसा लगता है कि भारत के संविधान निर्माताओं (Constitution makers of india) से एक गलती हो गई। उन्हें संविधान में यह भी लिख देना चाहिए था कि अगर देश हित का मुद्दा हो तो संविधान को तोडऩे-मरोडऩे में कोई ऐतराज नहीं होना चाहिए। उनकी इसी गलती का परिणाम ये है कि कश्मीर में धारा 370 व …

Read More »

ऐसे तो हर आंदोलनकारी को देशद्रोही बना देंगे ये लोग

News Analysis and Expert opinion on issues related to India and abroad

लंबे समय से अराजक एजेंडे पर काम कर रहे संघी मानसिकता के लोग लगातार अपने मकसद में कामयाब हो रहे हैं। संघियों के स्थापित होने के पीछे समाजवादियों का परिवारवाद, वंशवाद और पूंजीवाद में ढलना, वामपंथियों से अपनी विचारधारा से भटकना औेर कांग्रेस का नैतिक पतन होना रहा है। वैसे तो कांग्रेस भी अपने करने में कोई कसर नहीं छोड़ती …

Read More »

क्या यह दो संविधानों का टकराव है : मनुस्मृति और भारतीय संविधान दोनों साथ साथ नहीं चल सकते।

Sakshi Mishra Ajitesh Controversy

Sakshi Mishra Ajitesh Controversy : Is it a conflict of two constitution गत दिनों उत्तर प्रदेश के एक ब्राह्मण विधायक की बेटी ने एक दलित युवक से विवाह कर लिया (Brahmin MLA’s daughter married a Dalit boy) और अपने पिता के डर से नव दम्पत्ति नगर से भाग गया। इतना ही नहीं विधायक और उसके बाहुबलियों के डर से युवक …

Read More »

तो अब वो तय करेंगे- आप संदिग्ध हैं, देशद्रोही हैं

News Analysis and Expert opinion on issues related to India and abroad

लोकसभा चुनावों में 23 मई 2019 को भाजपा की प्रचंड जीत का एलान हुआ। आतंक की आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Sadhvi Pragya Singh Thakur accused of terror) को भाजपा (BJP) ने भोपाल (Bhopal) से अपना प्रत्याशी बनाया जिन्होंने कांग्रेस (Congress) के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह (Digvijaya Singh) को भारी मतों से पराजित कर कानून बनाने वाली देश की सबसे …

Read More »

येचुरी कहिन दक्षिणपंथ का मुकाबला केवल वामपंथ से ही संभव

रायपुर. मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) महासचिव सीताराम येचुरी (CPI (M) general secretary Sitaram Yechury) को लगता है कि दक्षिणपंथ का मुकाबला (bout of Right wing) केवल वामपंथ से ही संभव है। माकपा की दो-दिनी बैठक में शामिल होने रायपुर पहुंचे येचुरी ने पूरे प्रदेश से पहुंचे कार्यकर्ताओं की सभा को संबोधित करते हुए कहा कि देश की विविधता, संविधान, लोकतंत्र, …

Read More »

मरे हुए लोकतंत्र की लाश ढोते हुए हम राम नाम सत्य हैं जहां-जहां जगेंद्र बोलेंगे जिंदा जला दिये जायेंगे

Palash Biswas पलाश विश्वास पलाश विश्वास। लेखक वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं । आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की आवाज बनना ही पलाश विश्वास का परिचय है। हिंदी में पत्रकारिता करते हैं, अंग्रेजी के लोकप्रिय ब्लॉगर हैं। “अमेरिका से सावधान “उपन्यास के लेखक। अमर उजाला समेत कई अखबारों से होते हुए अब जनसत्ता कोलकाता में ठिकाना

पलाश विश्वास– वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं । आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की आवाज बनना ही पलाश विश्वास का परिचय है। हिंदी में पत्रकारिता करते हैं, अंग्रेजी के लोकप्रिय ब्लॉगर हैं। “अमेरिका से सावधान “उपन्यास के लेखक। अमर उजाला समेत कई अखबारों से होते हुए जनसत्ता कोलकाता से अवकाश प्राप्ति के बाद उत्तराखंड के दिनेशपुर में ठिकाना। …

Read More »

मिल गया-मिल गया टुकड़े टुकड़े गैंग का सही पता मिल गया

Why Modi Matters to Indias Divider in Chief

जब किसी राजनीतिक दल के प्रचारकों द्वारा उछाले गये जुमले को देश का प्रधानमंत्री दुहराने लगे तो यह निश्चित है कि या तो मामला बहुत गम्भीर है या प्रधानमंत्री गैर गम्भीर है। तीन वर्ष पहले एक वीडियो एक छात्र संगठन द्वारा उछाला गया था, जिसमें देश के सबसे प्रमुख विश्वविद्यालय जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (Jawaharlal Nehru University) में कुछ युवा अफज़ल …

Read More »

मार्क्सवादी प्रगतिशीलों की वैचारिक विक्षिप्तता : जातिवादी अस्मिताएँ पूंजीवाद के विरुद्ध कभी संघर्ष के मजबूत आधार नहीं बन सकतीं

Arun Maheshwari अरुण माहेश्वरी, लेखक प्रख्यात वाम चिंतक हैं।

बहुलता के हुड़दंगी परिदृश्य में से तानाशाही के सही प्रत्युत्तर की तलाश लखनऊ के हिंदी के आलोचक वीरेन्द्र यादव (Hindi critic Virendra Yadav) की फेसबुक टाइमलाइन पर 22 मई को श्री लक्ष्मण यादव की एक पोस्ट पर हमारी नजर पड़ी जिसमें उन्होंने लिखा था — “Virendra Yadav ने एक पोस्ट में रामचरितमानस को गीता, मनुस्मृति, बंच ऑफ थाट के साथ …

Read More »

एक भिन्न भारत में एक भिन्न लोकतंत्र का उदय

Why Modi Matters to Indias Divider in Chief

आम चुनाव से ठीक पहले भाजपा के एक सांसद साक्षी महाराज ने कहा था कि 2019 के चुनाव (Elections of 2019) आखिरी चुनाव होंगे। शायद उनका आशय इस बात से रहा होगा कि 2019 में जीत जाने के बाद विपक्षी दल (opposition parties) इतने क्षत विक्षत हो जायेंगे कि लम्बे समय तक चुनाव में उतरने लायक नहीं बचेंगे, इसलिए फिर …

Read More »

शहीदों का अपमान कर रही आतंकवाद की आरोपी प्रज्ञा, गिरफ्तार कर देशद्रोह का मुकदमा की उठी मांग

Sadhvi Pragya Thakur

भोपाल 18 मई। वरिष्ठ पत्रकार एल एस हरदेनिया ने कहा है कि प्रज्ञा सिंह (Sadhwi Pragya Singh Thakur) शहीदों का अपमान (Humiliation of martyrs) कर रही हैं। पहले हेमंत करकरे का अपमान (Hemant Karkare’s insult) किया और अब महात्मा गांधी के हत्यारे (Mahatma Gandhi’s assassins) नाथूराम गोडसे को देशभक्त कह रही हैं। उन्होंने कहा कि गोडसे आरएसएस का कार्यकर्ता था …

Read More »