प्रगतिशील लेखक संघ

Literature news साहित्य

विचार के बिना अधूरी होती है रचना

प्रलेसं के एक दिवसीय रचना शिविर में कविता, कहानी, लेखन पर हुआ विमर्श वरिष्ठ रचनाकारों से रू-ब-रू हुए युवा लेखक तेजी से बदलते समाज में रचनाकारों की दृष्टि और भूमिका पर हुई चर्चा भोपाल। बेहतर…


No Image

जिस रचनाकार की हड्डियों में अच्छा इतिहासबोध होगा, वही अच्छा साहित्य लिख सकता है

वाराणसी, 12 अगस्त 2019. रविवार को बीएचयू में एनी बेसेंट हाल  (Annie Besant Hall at BHU) में कला संकाय एवं प्रगतिशील लेखक संघ (Progressive writers association) द्वारा प्रख्यात कथाकार प्रेमचंद की याद में हिंदी के…


No Image

नरेंद्र मोदी शर्म करो, इतना डरना बन्द करो, कुछ पढ़ना-लिखना शुरू करो

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के विरोध में इंदौर में हुए जोरदार प्रदर्शन में सरकार के प्रति साधारण जनता का आक्रोश फूटा इंदौर। सीपीआई, सीपीआई (एम), एसयूसीआई (सी), प्रगतिशील लेखक संघ, भारतीय महिला फेडरेशन, पीयूसीएल, इप्टा,…


No Image

‘संवाद रंग हबीब’ : एक सफा खत्म होने का मतलब होता है, नया सफा शुरू करना

संध्या नवोदिता इलाहाबाद, 18 सितम्बर। हबीब साहब इतने सहज व्यक्ति थे कि उनसे कोई भी मिल सकता था। उनके नाटकों पर खुल कर बात करना, आलोचना करना सुझाव देना सम्भव था, वह सबको इतना स्पेस…


Literature news साहित्य

प्रेमचंद हिंदी साहित्य के हार्डवेयर हैं, तो भीष्म साहनी हिंदी साहित्य के सॉफ्टवेयर !

हमारे समय में भीष्म साहनी प्रगतिशील लेखक संघ की घाटशिला इकाई (झारखण्ड) का आयोजन: 14 नवम्बर, 2015 घाटशिला 14 नवम्बर, 2015. कालजयी कथाकार, नाटककार, अनुवादक, रंगमंचीय कलाकार अभिनेता भीष्म साहनी के जन्म शताब्दी वर्ष 2015…


हबीब तनवीर को छोड़कर छत्तीसगढ़ी में आधुनिक रंगलेखन के विषय में किसी ने सोचा ही नहीं

​छत्तीसगढ़ी में आधुनिक रंगकर्म : चुनौतियां और संभावनाएं Modern theater in Chhattisgarhi: challenges and possibilities रायपुर। सभी कलाप्रेमियों को यह समझना भी जरूरी है कि केवल लोक रंगमंच या लोक संस्कृति ही सर्वोपरि नहीं है,…


Safdar Hashmi सफदर हाशमी

नवउदारवादी आर्थिक नीतियों को लागू करने में पिछली सरकार से ज्यादा निर्लज्ज और निर्दयी है वर्तमान सरकार

सफदर हाशमी की विरासत को आगे बढ़ाने के संकल्प के साथ सम्पन्न हुआ याद-ए-सफदर ओपन एअर थियेटर ‘सफदर मंच’ के उद्घाटन के साथ लखनऊ शहर को मिला एक जनवादी प्रगतिशील अड्डा लखनऊ, 5 जनवरी। 2…


Literature news साहित्य

सिर्फ़ हँसना या मज़ाक करना व्यंग्य नहीं

प्रलेस ने याद किया हरिशंकर परसाई को इंदौर, 22 अगस्त (- केसरी सिंह चिडार)। प्रगतिशील लेखक संघ की इंदौर इकाई (Indore Unit of Progressive Writers Association) और आईबीएसएस विद्या निकेतन की ओर से शुक्रवार को हिंदी…


Literature news साहित्य

कविता भोलेपन और मासूमियत की रक्षा के लिये तैयार एक समझदार प्रयास

कविता स्वयं में भोली है? कविता रचने की प्रक्रिया को जटिल वर्तमान ने अधिक मुश्किल बना दिया इंदौर, 22 अक्टूबर 2013। कविता और उसके कथ्य, भाषा व शैली के बदलावों को परखने की जरूरत हर…