Home » Tag Archives: भारतीय इतिहास की समस्याएँ

Tag Archives: भारतीय इतिहास की समस्याएँ

अरुंधति रॉय और डॉ. राम विलास शर्मा की आँखों से गांधी और अंबेडकर देखना

अरुंधति रॉय की किताब 'एक था डॉक्टर और एक था संत', (Arundhati Roy's book Ek Tha Doctor Ek Tha Sant)

विमर्शमूलक विखंडन और कोरी उकसावेबाजी में विभाजन की रेखा बहुत महीन होती है अरुंधति रॉय की किताब ‘एक था डॉक्टर और एक था संत‘, (Arundhati Roy’s book Ek Tha Doctor Ek Tha Sant) की समीक्षा अरुंधति रॉय की किताब ‘एक था डॉक्टर और एक था संत‘, (Arundhati Roy’s book Ek Tha Doctor Ek Tha Sant,) लगभग एक सांस में ही …

Read More »

इतिहास का पुनर्मिथकीकरण : यानी इतिहास लिखना अब इतिहासकारों का नहीं, सरकार का काम है

opinion, debate

इतिहास का पुनर्मिथकीकरण : भविष्य के विरुद्ध ब्राह्मणवादी साजिश (भाग 1) ब्राह्मणवादी इतिहासबोध कालक्रम आधारित तथ्यात्मक की बजाय मिथकीय है, जिसकी युगचेतना अग्रगामी की बजाय अधोगामी है। यह, शीर्ष, सत्युग से शुरू होकर रसातल, कलियुग तक अधोगामी यात्रा करता है। स्वर्णयुग भी ऐसा जिसमें इंसानों की खरीद-फरोख्त की खुली बाजार हो![1] निहित ब्राह्मणवादी स्वार्थों के तहत पौराणिक अतीत में महानता …

Read More »