राष्ट्रवाद

debate opinion

इस देशभक्ति के बीच दस लाख आदिवासी घरों को जंगल की जमीन से जबरन बेदखल कर दिया जाएगा

सोलह राज्यों के दस लाख आदिवासी घरों को जंगल की जमीन से जबरन बेदखल किया जाएगा, सुप्रीम कोर्ट के ताजा फैसले के बाद! राष्ट्रवाद और देशभक्ति के नशे में डूबे देश के लिए यह कोई…


mohan bhagwat

कौन सच्चा, गोलवरकर या भागवत : आरएसएस का ‘ग्लासनोस्त’ क्षण !

कौन सच्चा, गोलवरकर या भागवत : आरएसएस का ‘ग्लासनोस्त’ क्षण ! -अरुण माहेश्वरी नई दिल्ली में भविष्य का भारत विषय पर आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत के तीन भाषणों की श्रृंखला में उन्होंने भारतीय राष्ट्र…


opinion, debate

कारपोरेट लूट की ढाल बन चुका है राष्ट्रवाद मोदी इसकी ढाल से अपने यार सरमायेदारों द्वारा देश की लूट को संरक्षण दे रहे

मधुवन दत्त चतुर्वेदी राष्ट्रवाद कारपोरेट लूट की ढाल बन चुका है। यह न्याय, शांति, विवेक और लोकाधिकारों के विचार को दीमक की तरह चाट रहा है। जनद्रोही है राष्ट्रवाद। नरेन्द्र मोदी इसी राष्ट्रवाद की ढाल…


Jagadishwar Chaturvedi

राष्ट्रवाद की धारणा लोकतन्त्र के आस्तित्व के लिये घातक है : प्रो0 जगदीश्वर

लोकतन्त्र बचाना है तो व्यक्ति के चरित्र को गिरने से बचाना होगा – प्रो0 जगदीश्वर भूपिन्दर पाल सिंह बाराबंकी, 04 नवंबर। देश के प्रखर साहित्यकार व स्तम्भकार प्रो0 जगदीश्वर चतुर्वेदी ने कहा है कि लोकतन्त्र…


Palash Biswas पलाश विश्वास पलाश विश्वास। लेखक वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं । आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की आवाज बनना ही पलाश विश्वास का परिचय है। हिंदी में पत्रकारिता करते हैं, अंग्रेजी के लोकप्रिय ब्लॉगर हैं। “अमेरिका से सावधान “उपन्यास के लेखक। अमर उजाला समेत कई अखबारों से होते हुए अब जनसत्ता कोलकाता में ठिकाना

संविधान पर पुनर्विचार आरएसएस का ‘हिडेन एजेंडा’ है’!

कॉपीराइट मुक्त रवीद्रनाथ टैगौर (Copyright Free Rabindranath Tagore) अब मुक्त बाजार के आइकन (Free market icons) में तब्दील हैं। उनके वाणिज्यिक विपणन से उसी नस्ली वर्ण वर्ग वर्चस्व के राष्ट्रवाद को मजबूत किया जा रहा…


rabindranath tagore

राष्ट्रवाद आस्था का नहीं, राजनीति का मामला है इसीलिए दूध घी की नदियां अब खून की नदियों में तब्दील

रवींद्र का दलित विमर्श-21 पलाश विश्वास पांच अक्तूबर को मैं नई दिल्ली रवाना हो रहा हूं और वहां से गांव बसंतीपुर पहुंचना है। आगे क्या होगा, कह नहीं सकते। कोलकाता में बने रहना मुश्किल हो…


rabindranath tagore

क्यों नस्ली नाजी फासीवाद के निशाने पर थे गांधी और टैगोर? हिटलर समर्थक हिंदुत्ववादियों ने की थी टैगोर की हत्या की साजिश

रवींद्र का दलित विमर्श-बारह | Political views of Rabindranath Tagore पलाश विश्वास विकीपीडिया में राजनीतिक विचारों के लिए हिंदू जर्मन क्रांतिकारियों की तरफ से रवींद्र नाथ की ह्त्या की साजिश के बारे में थोड़ा उल्लेख…


क्या है आरएसएस का शिक्षा एजेंडा?

आरएसएस से जुड़ी संस्था ‘‘शिक्षा संस्कृति उत्थान’’ ने हाल में राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) को अपनी अनुशंसाओं में अंग्रेज़ी, उर्दू और अरबी शब्दों के अतिरिक्त, रवीन्द्रनाथ टैगोर के विचारों, एमएफ हुसैन की…


Palash Biswas पलाश विश्वास पलाश विश्वास। लेखक वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं । आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की आवाज बनना ही पलाश विश्वास का परिचय है। हिंदी में पत्रकारिता करते हैं, अंग्रेजी के लोकप्रिय ब्लॉगर हैं। “अमेरिका से सावधान “उपन्यास के लेखक। अमर उजाला समेत कई अखबारों से होते हुए अब जनसत्ता कोलकाता में ठिकाना

निरंकुश जनसंहार ही राष्ट्रवाद की नई संस्कृति, वतन सेना के हवाले! UP-बंगाल में भी हालात तेजी से कश्मीर जैसे बन रहे

हमारे समय के सशक्त संवेदनशील प्रतिनिधि कवि मंगलेश डबराल ने अपनी दीवार पर  लिखा है – जैसे हालात बन रहे हैं,  वे हमें कभी भी किसी युद्ध की ओर ले जा सकते हैं. यह बेहद…


Donald Trump Narendra Modi

प्रधान स्वयंसेवक और महाबलि ट्रंप के मिलन से भारत को क्या मिला और अमेरिका को क्या?

अमेरिकी पूंजीपतियों, कारपोरेट कंपनियों और उद्योगपतियों के साथ अमेरिका में प्रधान स्वयंसेवक के गोलमेज सम्मेलन के ब्यौरे भारतीय गोदी मीडिया ने कुछ ज्यादा नहीं दिया है। गौरतलब है कि इस अभूतपूर्व गोलमेज सम्मेलन में प्रधान…