Home » Tag Archives: RSS

Tag Archives: RSS

गाँधी जी ने कहा था – आरएसएस साम्प्रदायिक संगठन है

Mahatma Gandhi 1

हरिजन  के 9 अगस्त 1942 के अंक में गांधीजी लिखते हैं, “मैंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और उसकी गतिविधियों के बारे में सुना है और मुझे यह भी पता है कि वह एक साम्प्रदायिक संगठन है”.

Read More »

गीता, आरएसएस और नेहरू : क्या संघ परिवार आज किसी संकट से गुजर रहा है ?

Geeta RSS and Nehru Is the Sangh Parivar going through a crisis today

भाजपा-आरएसएस के सत्ता में आने के बाद श्रीमद्भगवद्गीता (Shrimad Bhagavad Gita) को लेकर देश में अचानक बहस हो रही है और इस बहस को पैदा करने में संघ समर्थित संतों-महंतों और-मीडिया की बड़ी भूमिका है। इवेंट बनेगा तो मीडिया हो-हल्ला होगा! इवेंट बनाना मासकल्चर का अंग है जबकि गीता संस्कृति का अंग है। गीता जयन्ती (Geeta Jayanti) के मौके पर …

Read More »

इतिहास के दस्तावेज से : आरएसएस ने किस तरह राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का अपमान किया

tricolour flag

इतिहास के दस्तावेज से : देश की आज़ादी के अवसर पर आरएसएस ने किस तरह राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे और जनतांत्रिक-धर्मनिरपेक्ष भारत के जन्म की भर्त्सना की थी… RSS DENIGRATED THE NATIONAL FLAG AND BIRTH OF DEMOCRATIC-SECULAR INDIA ON THE EVE OF INDEPENDENCE स्वतंत्रता की पूर्व संध्या पर जब देश भर में लोग तिरंगे झण्डे लेकर सड़कों पर निकले हुए थे …

Read More »

क्या छात्रों को आरएसएस के अभिलेखागार में बंद राष्ट्रविरोधी दस्तावेज़ों को पढ़ने का मौक़ा मिलेगा?

RSS Half Pants

नागपुर विश्वविद्यालय पाठ्यक्रम में आरएसएस का अध्ययन शामिल प्रजातान्त्रिक-धर्मनिरपेक्ष भारत के इतिहास (History of democratic-secular India) में पहली बार नागपुर के ‘राष्ट्र-संत राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज विश्वविद्यालय’ (Rashtrasant Tukadoji Maharaj Nagpur University) पाठ्यक्रम में आरएसएस का अध्ययन शामिल किया गया है। विश्वविद्यालय की एक विज्ञप्ति के अनुसार बी.ए. (इतिहास  द्वितीय वर्ष)  के कोर्स ‘भारत का इतिहास (1885-1947)’ में से ‘भारत में …

Read More »

आपातकाल विरोधी आंदोलन से आरएसएस की ग़द्दारी

RSS Half Pants

भारत में आपातकाल घोषणा की 44वीं वर्षगांठ : आपातकाल विरोधी आंदोलन से आरएसएस की ग़द्दारी भारत की तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी (Prime Minister Indira Gandhi) ने 25-26 जून, 1975 को देश में आंतरिक आपातकाल घोषित किया था। यह 19 महीने तक लागू रहा। इस दौर को भारतीय लोकतांत्रिक राजनीति में काले दिनों के रूप में याद किया जाता है। इंदिरा …

Read More »

दुनिया में भारत की असभ्य इमेज बनाने वाले तत्व हैं हिंदुत्व – आरएसएस का प्रचार और कारपोरेट मीडिया

Jagadishwar Chaturvedi

नया भारत और नई चुनौतियां (New India and New Challenges) जो लोग इतनी तबाही के बाद भी मोदी-मोदी के नशे में चूर हैं, उनके लिए हम तो यही कहना चाहेंगे कि अपनी अक्ल पर विश्वास करो, आंखें खोलकर सामने बाजार-बैंक-खेत-खलिहान में मच रही तबाही देखो। मोदी के आने के बाद सरकारी बैंकों को प्रतिदिन करोडों रूपये का नुकसान उठाना पड़ …

Read More »

एक अशिक्षित नेतृत्व से भारत को मुक्त करने का समय आ गया है

Narendra Modi An important message to the nation

आदमी के गठन में उसके इर्द-गिर्द के लोगों की उससे की जाने वाली अपेक्षाओं की बड़ी भूमिका होती है। आतंकवादियों की सोहबत (organization of terrorists) में रहने वाला आदमी हमेशा अपने आतंकवादी मित्रों की अपेक्षाओं में ही खरा उतरने की कोशिश करता रहता है। इस प्रकार निकट के लोगों की नज़रें आदमी की सूरत (appearance of the man) को तैयार …

Read More »

हिंदू हृदय सम्राट दिग्विजय सिंह बोले संघ का हिंदुत्व जोड़ता नहीं तोड़ता है, अपने धर्म का राजनीतिक अपहरण मैं कभी नहीं होने दूंगा

digvijaya singh

भोपाल, 21 अप्रैल। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के भोपाल संसदीय क्षेत्र (Bhopal Parliamentary Constituency) से कांग्रेस उम्मीदवार व मध्य प्रदेश पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Madhya Pradesh Former Chief Minister Digvijay Singh) ने चुनाव के दौरान गहराते ‘हिंदुत्व’ के मुद्दे पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि संघ का हिंदुत्व (Hindutva of RSS) जोड़ता …

Read More »

झूठ का तूफान और मोदी सरकार : RSS की नयी मैकार्थियन रणनीति, राष्ट्रवाद के नाम पर भय पैदा करो

पुलवामा की आतंकी घटना के साथ ही भाजपा अपने मैकार्थियन एजेण्डे को आगे बढ़ाते हुए नई कड़ी के तौर पर ''गद्दार बनाम देशभक्त'' की थीम पर प्रचार अभियान आरंभ कर चुकी है, इस थीम पर पहले वे आधिकारिक तौर पर 18फरवरी2016 से तीन दिन तक यह अभियान पूरे देश में चला चुके हैं। इसे ''जन स्वाभिमान अभियान'' नाम दिया गया। …

Read More »

नायकों पर कब्जा करने की संघी मुहिम : अब बारी नेताजी सुभाषचन्द्र बोस की

Subhas Chandra Bose

RSS के मन में कभी यह विचार क्यों नहीं आया कि उसे भारत को स्वाधीन करवाने के लिए संघर्ष करना चाहिए? कुछ वर्षों से RSS लगातार राष्ट्रीय नायकों पर कब्जा करने के प्रयास में जुटा हुआ है। अब बारी नेताजी सुभाषचन्द्र बोस की

Read More »