Home » हस्तक्षेप » आपकी नज़र » टर्की से मोदी के डाक टिकट का रहस्य जानिये… तुर्की ने मोदी को दुनिया का सबसे बड़ा नेता नहीं कहा
Narendra Modi An important message to the nation

टर्की से मोदी के डाक टिकट का रहस्य जानिये… तुर्की ने मोदी को दुनिया का सबसे बड़ा नेता नहीं कहा

अरुण माहेश्वरी

टर्की से मोदी के डाक टिकट का रहस्य जानिये। यह मोदी की किसी उपलब्धि का सम्मान नहीं है। 2015 में जी-20 की बैठक में वहाँ जितने देशों के राष्ट्र प्रमुख उपस्थित हुए थे, उन सबका अभिनंदन करते हुए जो डाक टिकट जारी किये गये, उनमें ही एक टिकट मोदी का भी था।

मोदी पर इस डाक टिकट को मोदी-शाह का आई टी सेल कुछ इस प्रकार प्रचारित कर रहा है मानो टर्की की सरकार ने मोदी की नोटबंदी और जीएसटी की दुनिया की महानतम उपलब्धियों का स्वागत करते हुए यह टिकट जारी किया है और देशवासियों को उनकी इन उपलब्धियों के लिये नोबेल पुरस्कार की भी उम्मीद करनी चाहिए!

नोट – तथ्य 

1. तुर्की ने मोदी को दुनिया का सबसे बड़ा नेता नहीं कहा

2. तुर्की की श्रृंखला में कुल 33 ऐसे टिकट थे जिनमें शिखर सम्मेलन में भाग लेने वाले सभी देश के प्रतिनिधियों की फोटो थी। यह तुर्की का महत्वपूर्ण अतिथियों का सम्मान करने का एक तरीका है।

3. 15 नवंबर, 2015 को टर्की में संपन्न जी 20 शिखर सम्मेलन में उपरोक्त स्टांप जारी किया गया था।

स्रोत –  The Turkish Modi Stamp Is From 2015 G20 Summit, It Was Issued Along With 32 Other World Leaders

About अरुण माहेश्वरी

अरुण माहेश्वरी, प्रसिद्ध वामपंथी चिंतक हैं। वे हस्तक्षेप के सम्मानित स्तंभकार हैं।

Check Also

Ajit Pawar after oath as Deputy CM

जनतंत्र के काल में महलों के षड़यंत्रों वाली दमनकारी राजशाही है फासीवाद, महाराष्ट्र ने साबित किया

जनतंत्र के काल में महलों के षड़यंत्रों वाली दमनकारी राजशाही है फासीवाद, महाराष्ट्र ने साबित …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: