सोने से पहले इन पांच चीजों का करें इस्तेमाल और बनें ड्रीम गर्ल

healthy lifestyle

आजकल व्यस्त ज़िंदगी (fatigue life,) के बीच आप अपनी त्वचा (The skin) का सही तरीके से ख्याल नहीं रख पाती हैं। इसका नतीजा होता है कि आपकी स्किन रूखी और बेजान होकर अपनी चमक खो देती है। आपके चेहरे पर वक्त से पहले बुढ़ापा (Premature aging) नजर आने लगता है।

Skin Care in Busy Life

अगर आप भी बिना ज्यादा वक्त दिए अपनी स्किन की देखभाल करना चाहती हैं और इसकी खूबसूरती बरकरार रखना चाहती हैं, तो आपको रात में सोने से पहले कुछ चीजों का चेहरे पर इस्तेमाल करने की जरूरत है। यहां जानिए कौन-सी हैं वो चीजें।

  1. बादाम तेल (Almond oil)

बादाम तेल में इसमें मौजूद विटामिन ई, ए, फैटी एसिड और मॉइश्चराइजिंग प्रोपर्टी स्किन को मुलायम बनाता है और इसमें चमक लाता है। सोने से पहले चेहरा धोकर इसकी पतली लेयर लगाएं। बेहतर होगा अगर आप स्वीट आलमंड ऑयल (Sweet Almond Oil) जैसे रोगन बादाम का इस्तेमाल करें।

  1. एलो वेरा जेल Aloe vera gel

एलो वेरा जेल आपको कई त्वचा की परेशानियों (Many Skin Problems) से बचाने में मदद करता है और खूबसूरती भी बढ़ाता है। इसकी एक पतली लेयर लगाएं और एक मिनट तक मसाज करें। सुबह धो लें। इससे आपकी त्वचा में चमक (Glow in the skin) भी आएगी।

  1. विटामिन ई कैप्सूल Vitamin E capsule

विटामिन ई कैप्सूल आपको बाज़ार में आसानी से मिल जाएंगे। इन कैप्सूल को काटकर इसमें मौजूद तेल को निकाल लें। चेहरा धोकर पोंछने के बाद इसे लगाकर एक मिनट तक मसाज करे। ये रूखापन खत्म कर चमक लाएगा।

  1. मिल्क क्रीम Milk cream

मिल्क क्रीम आपके चेहरे का रूखापन खत्म करने में असरादर होती है। इससे आपकी रंगत भी निखरेगी। पर अगर आपको डेयरी प्रोडक्ट से एलर्जी (Allergy to Dairy Products) हो, तो इसका इस्तेमाल ना करें। सोने से पहले इसकी एक पतली लेयर लगाएं और सूखने के बाद धो लें।

  1. गुलाबजल rose water

गुलाबजल स्किन को मॉइश्चराइज करने के साथ ही इसकी नमी बनाए रखता है। गुलाबजल के इस्तेमाल से चेहरे पर चमक आती है और आप हमेशा तरोताज़ा नजर आती हैं। सोने से पहले इसे फ्रिज में रखकर ठंडा कर लें। रूई की मदद से पूरे चेहरे पर लगाएं।

Use these five things before sleeping and become Dream Girl

(स्रोत – देशबन्धु)

About the Author

देशबन्धु
Deshbandhu is a Newspaper with 63 years of standing. We take pride in defining Deshbandhu as ‘Patr Nahin Mitr’ meaning ‘Not only a journal but a friend too’.