Home » VK Singh Jions BJP is no Breaking News!

VK Singh Jions BJP is no Breaking News!

K K Singh
Retired General VK Singh declared his political ambition by joining BJP today in some lack lustre press conference. In fact, when he had joined stage with Narendra Modi, sometimes back, the incidence was more sensational than present one but he failed to “use” that as he declared it for the cause of ex servicemen! Some time back, Kiran Bedi too had declared her political ambition by supporting Modi as PM in name of stability without much breaking ice in political arena!
When, the liquidated JLPB or say Jokepal bill got passed with support of Mayavati, Lalu Yadav etc, it became clear that mass was not enthused as there was no victory march except Anna and his few supporters celebrated so called victory and had to thank , Congress and BJP!! Now the chorus of IAC, Modi, VK Singh broke, Arvind Kejriwal had left earlier by forming AAP, Anna supporting Mamta Banarjee, the left overs have no choice but to join their choice as early as possible, in fear of loosing the share of political and mass upheaval as it seems it is dying! And there is VK Singh, fallen hero of JLPB movement and will be satisfied by LS seat, whether he looses or wins! This loss will be worse than what he lost in court to postpone his birthday!
End of another drama which turned out to be a damp squid! AAP, so far is a clear winner of JLPB movement as it still supports it and is fighting against all corrupt parties!

About the author

Captain KK Singh, (Krishna Kant Singh) is defence expert.He Worked at Indian Air Force, now he is active with Aam Admi Party. He is respected columnist of hastakshep.com/old

About हस्तक्षेप

Check Also

भारत में 25 साल में दोगुने हो गए पक्षाघात और दिल की बीमारियों के मरीज

25 वर्षों में 50 फीसदी बढ़ गईं पक्षाघात और दिल की बीमांरियां. कुल मौतों में से 17.8 प्रतिशत हृदय रोग और 7.1 प्रतिशत पक्षाघात के कारण. Cardiovascular diseases, paralysis, heart beams, heart disease,

Bharatendu Harishchandra

अपने समय से बहुत ही आगे थे भारतेंदु, साहित्य में भी और राजनीतिक विचार में भी

विशेष आलेख गुलामी की पीड़ा : भारतेंदु हरिश्चंद्र की प्रासंगिकता मनोज कुमार झा/वीणा भाटिया “आवहु …

राष्ट्रीय संस्थाओं पर कब्जा: चिंतन प्रक्रिया पर हावी होने की साजिश

राष्ट्रीय संस्थाओं पर कब्जा : चिंतन प्रक्रिया पर हावी होने की साजिश Occupy national institutions : …

News Analysis and Expert opinion on issues related to India and abroad

अच्छे नहीं, अंधेरे दिनों की आहट

मोदी सरकार के सत्ता में आते ही संघ परिवार बड़ी मुस्तैदी से अपने उन एजेंडों के साथ सामने आ रहा है, जो काफी विवादित रहे हैं, इनका सम्बन्ध इतिहास, संस्कृति, नृतत्वशास्त्र, धर्मनिरपेक्षता तथा अकादमिक जगत में खास विचारधारा से लैस लोगों की तैनाती से है।

National News

ऐसे हुई पहाड़ की एक नदी की मौत

शिप्रा नदी : पहाड़ के परम्परागत जलस्रोत ख़त्म हो रहे हैं और जंगल की कटाई के साथ अंधाधुंध निर्माण इसकी बड़ी वजह है। इस वजह से छोटी नदियों पर खतरा मंडरा रहा है।

Ganga

गंगा-एक कारपोरेट एजेंडा

जल वस्तु है, तो फिर गंगा मां कैसे हो सकती है ? गंगा रही होगी कभी स्वर्ग में ले जाने वाली धारा, साझी संस्कृति, अस्मिता और समृद्धि की प्रतीक, भारतीय पानी-पर्यावरण की नियंता, मां, वगैरह, वगैरह। ये शब्द अब पुराने पड़ चुके। गंगा, अब सिर्फ बिजली पैदा करने और पानी सेवा उद्योग का कच्चा माल है। मैला ढोने वाली मालगाड़ी है। कॉमन कमोडिटी मात्र !!

Entertainment news

Veda BF (वेडा बीएफ) पूर्ण वीडियो | Prem Kahani – Full Video

प्रेम कहानी - पूर्ण वीडियो | वेदा BF | अल्ताफ शेख, सोनम कांबले, तनवीर पटेल और दत्ता धर्मे. Prem Kahani - Full Video | Veda BF | Altaf Shaikh, Sonam Kamble, Tanveer Patel & Datta Dharme

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: