Home » Latest » ऑनलाइन हेल्थ इन्फॉर्मेशन कितनी विश्वसनीय
Health News in Hindi

ऑनलाइन हेल्थ इन्फॉर्मेशन कितनी विश्वसनीय

Online Health Information: Is It Reliable?

विश्वसनीय स्वास्थ्य सूचना ऑनलाइन खोजना | Finding Reliable Health Information Online

Where Can I Find Reliable Health Information Online?

Questions to Ask Before Trusting a Website
Health and Medical Apps
Social Media and Health Information
Trust Yourself and Talk to Your Doctor

बहुत से लोगों को इंटरनेट से स्वास्थ्य की जानकारी मिलती है। लेकिन हर ऑनलाइन स्रोत विश्वसनीय नहीं है। आप कैसे जानते हैं कि क्या आप अपने द्वारा पाई जाने वाली स्वास्थ्य जानकारी पर भरोसा कर सकते हैं? ऐसे कई संकेत हैं जिनकी आप तलाश कर सकते हैं।

सबसे पहले, यह पता लगाना महत्वपूर्ण है कि कोई वेबसाइट किसी विश्वसनीय स्रोत से है या नहीं। प्रसिद्ध मेडिकल स्कूल और बड़े पेशेवर संगठन भी स्वास्थ्य की जानकारी के अच्छे स्रोत हो सकते हैं।

अन्य साइटों के लिए, कुछ प्रश्न पूछना महत्वपूर्ण होता है। जैसे कि वेबसाइट को कौन प्रायोजित करता है और उनके लक्ष्य क्या हैं? वे आपको सूचित करने के बजाय आपको एक उत्पाद बेचने की कोशिश कर सकते हैं। पता करें कि किसने जानकारी लिखी और उसकी समीक्षा की। क्या वे एक चिकित्सा पेशेवर हैं? किसी भी वेबसाइट के बारे में सतर्क रहें जो आपकी स्वास्थ्य समस्या के लिए त्वरित समाधान या “चमत्कारिक इलाज” की पेशकश करे।

जब भी कोई सूचना या खबर लिखी जाती है तो यह नोट करना भी महत्वपूर्ण है, अक्सर वेबपेज के निचले भाग पर या ऊपर प्रकासित होने की एक तारीख होगी। आप पुरानी जानकारी के आधार पर निर्णय नहीं लें।

फेसबुक और ट्विटर जैसी सोशल मीडिया साइट्स स्वास्थ्य की जानकारी का एक अन्य स्रोत हैं। लेकिन ध्यान रखें – सिर्फ इसलिए कि कोई पोस्ट किसी मित्र या सहकर्मी की है, इसका मतलब यह नहीं है कि यह सही या वैज्ञानिक रूप से सटीक है। अपने लिए निर्णय लेने के लिए मूल स्रोत की जाँच करें।

कोई भी जानकारी जो आपको ऑनलाइन मिलती है, उसे अपने मेडिकल पेशेवर को दिखाना चाहिए। स्वास्थ्य संबंधी कोई भी जानकारी जो आपको ऑनलाइन मिलती है, वह एक क्वालीफाइड डॉक्टर का स्थान नहीं ले सकती है।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

shahnawaz alam

ज्ञानवापी मस्जिद के अंदर सर्वे : मीडिया और न्यायपालिका के सांप्रदायिक हिस्से के गठजोड़ से देश का माहौल बिगाड़ने की हो रही है कोशिश

फव्वारे के टूटे हुए पत्थर को शिवलिंग बता कर अफवाह फैलायी जा रही है- शाहनवाज़ …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.