राहुल गांधी के इस आरोप का पीएम मोदी के पास कोई उत्तर नहीं

Rahul Gandhi at Bharat Bachao Rally

PM Modi has no answer to this allegation of Rahul Gandhi

नई दिल्ली 14 अप्रैल 2020 : कोरोना वायरस ((Coronavirus)  भारत में तेजी से पैर पसारता जा रहा है। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले (Coronavirus infection cases in India) 10,000 के ऊपर पहुंच गए हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस (COVID-19) के 1211 नए मामले सामने आए हैं और 31 लोगों की मौत हुई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार भारत में कोरोना संक्रमण मामलों की संख्या (Number of corona infection cases in India) बढ़कर 10,363 हो गई है और अब तक कोरोना वायरस भारत में 339  लोगों की जान लील चुका है।

इस बीच कोरोना टेस्टिंग को लेकर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Former Congress President Rahul Gandhi) ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि कोरोना से लड़ाई में उसकी जांच सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है, लेकिन इस मामले में हम लाओस, नाइजर और होंडुरास के साथ खड़े हैं, जहां दस लाख लोगों पर क्रमश: 157, 182 और 162 लोगों के टेस्ट हो रहे हैं।

श्री गांधी ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर (Rahul Gandhi tweet on Cororna virus) पर लिखा,

‘भारत ने परीक्षण किट खरीदने में देरी की और अब इसकी काफी कमी दिख रही है। कोरोना जांच के मामले में हम लाओस, नाइजर और होंडुरास के साथ खड़े हैं, जहां दस लाख लोगों पर क्रमश: 157, 182 और 162 लोगों के टेस्ट हो रहे हैं। बड़े पैमाने पर जांच ही कोरोना से लड़ाई में मददगार है। आज के समय में हम इस मामले में काफी पीछे हैं।’

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन से पहले श्री गांधी ने मोदी सरकार पर आरोप लगाया था कि


किसानों,श्रमिकों,दिहाड़ी मज़दूरों,व्यापारियों,सभी को एक पैमाने से नहीं देखा जा सकता।पूर्ण लॉकडाउन कई वर्गों के लिए विपदा बन गया है।देश को “स्मॉर्ट” समाधान की ज़रूरत है:बड़े स्तर पे टेस्ट,वाइरस हॉटस्पॉट की पहचान और घेराव,बाक़ी जगहों पर सावधानी से धीरे-धीरे काम-काज शुरू होना चाहिए।”

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने यह भी कहा कि कोरोना वायरस से ज्यादा प्रभावित इलाकों  के अलावा दूसरे क्षेत्रों में कारोबार धीरे-धीरे खुलने दिया जाए।


पाठकों सेअपील - “हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें