Home » Latest » भेड़िया अब दो पैरों पर चल सकता है/ दे सकता है सत्संग शिविर में प्रवचन
नित्यानन्द गायेन Nityanand Gayen

भेड़िया अब दो पैरों पर चल सकता है/ दे सकता है सत्संग शिविर में प्रवचन

चुप्पी साधे सब जीव

सुरक्षित हो जाने के भ्रम में

अंधेरे बिलों में छिप कर

राहत की सांस ले रहे हैं

 

बाहर आदमखोर भेड़िया

हंस रहा है

इसकी ख़बर नहीं है उन्हें

 

भेड़िया अब दो पैरों पर चल सकता है

दे सकता है सत्संग शिविर में प्रवचन

सुना सकता है बच्चों को कहानी

शिकार को जाल में फंसाने के लिए

कुछ भी कर सकता है वो

 

वह अब अपने खून भरे नुकीले पंजों को

खुर पहनकर छिपा कर चलता है

 

इनदिनों वो तमाम आदमखोर जानवरों का

मुखिया बन चुका है

आप भी जानते हैं कि अब वह गुफा के भीतर

कब और क्यों जाता है

 

हम बार -बार आगाह कर रहे हैं

कि जंगल में आग लग चुकी है

और आदमखोर भेड़िया अपने साथियों के साथ

मानव बस्तियों की तरफ बढ़ रहा है

अफ़सोस , कि लोग मुझे

आसमान गिरा , आसमान गिरा कहने वाला

खरगोश समझ रहे हैं !

नित्यानन्द गायेन

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

shahnawaz alam

ज्ञानवापी मस्जिद के अंदर सर्वे : मीडिया और न्यायपालिका के सांप्रदायिक हिस्से के गठजोड़ से देश का माहौल बिगाड़ने की हो रही है कोशिश

फव्वारे के टूटे हुए पत्थर को शिवलिंग बता कर अफवाह फैलायी जा रही है- शाहनवाज़ …