Home » समाचार » कानून » एएमयू और जामिया के छात्रों के साथ खुलकर खड़े हुए राष्ट्रपिता के प्रपौत्र, बोले हम सबको खड़ा चाहिए
Tushar Gandhi

एएमयू और जामिया के छात्रों के साथ खुलकर खड़े हुए राष्ट्रपिता के प्रपौत्र, बोले हम सबको खड़ा चाहिए

Police atrocities against students of Jamia Millia Islamia University and Aligarh Muslim University

नई दिल्ली, 16 दिसंबर 2019. नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के विरोध में चल रहे प्रदर्शनों (Protest against the Citizenship Amendment Act (CAA),) के दौरान दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय व उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के छात्रों पर पुलिस जुल्म के खिलाफ राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के प्रपौत्र तुषार गांधी (Great-grandson of Father of the Nation, Tushar Gandhi,) न केवल खुलकर खड़े हो गए हैं, बल्कि उन्होंने कहा है कि हम सभी को खड़ा होना चाहिए।

श्री गांधी ने धड़ाधड़ ट्वीट किए। उन्होंने कहा,

“मैं एएमयू और जामिया के छात्रों और शिक्षकों के साथ खड़ा हूं। हम सबको खड़ा चाहिए।“

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि

“‘पिल्ले’ को उसकी कार ’के नीचे कुचल दिया जा रहा है और हमेशा की तरह वीआईपी बेखबर है।“

बता दें 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले गुजरात दंगों पर आज के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने टिप्पणी की थी, ‘यदि कोई पिल्ला भी कार के पहिये के नीचे आ जाए तो उन्हें दुख होगा’। इस पर काफी बवाल हुआ था।

श्री गांधी ने ट्वीट किया,

“जब तक पुलिस सेवा सुधार लागू नहीं होते हैं और पुलिस राजनेताओं की दासता से मुक्त नहीं होती है, तब तक पुलिस अपने राजनीतिक आकाओं की सेवा करेगी, न कि कानून और नागरिकों की।“


हमारे बारे में hastakshep

Check Also

Shailendra Dubey, Chairman - All India Power Engineers Federation

विद्युत् वितरण कम्पनियाँ लॉक डाउन में निजी क्षेत्र के बिजली घरों को फिक्स चार्जेस देना बंद करें

DISCOMS SHOULD INVOKE FORCE MAJEURE CLAUSE TOSAVE FIX CHARGES BEING PAID TO PRIVATE GENERATORS IN …

Leave a Reply