Best Glory Casino in Bangladesh and India! 在進行性生活之前服用,不受進食的影響,犀利士持續時間是36小時,如果服用10mg效果不顯著,可以服用20mg。
जमशेदपुर की किसी मस्जिद में कोई छापेमारी नहीं, मस्जिद कमेटी के लोगों ने सहयोग किया : एसएसपी

जमशेदपुर की किसी मस्जिद में कोई छापेमारी नहीं, मस्जिद कमेटी के लोगों ने सहयोग किया : एसएसपी

जमशेदपुर पुलिस : हिंदपीढ़ी और मरकज़ से लौटे लोगों को चिन्हित कर भेजा गया आइसोलेशन में

लॉकडाउन के कारण जमात के लोग मस्जिद से नहीं जा सके थे वापस।

दो महीने पूर्व घर से निकले थे जमात के लोग।

मरकज़ और हिंदपीढ़ी से लौटे 4 लोगों को मुसाबनी में आइसोलेशन पर भेजा गया।

जमशेदपुर से शाहनवाज़ हसन, 01 अप्रैल 2020 : झारखंड की राजधानी रांची के हिंदपीढ़ी मस्जिद में मलेशिया से तब्लीगी जमात में शामिल महिला में कोरोना वायरस का पॉजिटिव केस (Positive case of corona virus in a woman involved in Tablighi Jamaat from Malaysia in Hindpiri Mosque of Ranchi, capital of Jharkhand) मिलने के बाद झारखण्ड सरकार और झारखण्ड पुलिस पूरी तरह सतर्क हो गयी है। इस पॉजिटिव केस के आने के बाद झारखण्ड के सभी जिलों में पुलिस ने मरकज़ के इज्तेमा और हिंदपीढ़ी मस्जिद से लौटे लोगों की पहचान करने में जुट गयी है।

आज जमशेदपुर की ऐसी सभी मसजिदों में भी जमशेदपुर पुलिस ने मस्जिद कमेटी को साथ लेकर मस्जिद में लॉक डाउन के बाद से फंसे लोगों की पूरी जानकारी प्राप्त की है।

जमशेदपुर पुलिस ने पुलिस मुख्यालय से मिले इनपुट के आधार पर जमशेदपुर की कई मसजिदों में यह अभियान चलाया। पुलिस की इस तलाशी अभियान में बड़ी  कामयाबी भी मिली है, मसजिदों में बाहरी लोगों के ठहरने का खुलासा हुआ है।

जमशेदपुर पुलिस ने मुसाबनी में 15 लोगों को पकड़ा है, जो जमशेदपुर के बाहर से आये हुये थे और करीब दो माह से वहां रह रहे थे। इसमें से चार लोग नई दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज़ में आयोजित हुए तबलीगी जमात में हिस्सा लेकर लौटे थे। इन चारों के साथ सभी 15 लोगों को क्वारंटाइन (एक कमरे में रखकर दूसरों से मिलने पर रोक लगना) कर दिया गया है।

वैसे चार लोग जो नई दिल्ली से आये हैं, उनकी स्वास्थ्य जांच के लिए लैब टेस्टिंग शुरू कर दी गयी है। इसके अलावा जमशेदपुर के ही मुसलिम बहुल इलाके आजादनगर में 24 जमशेदपुर से बाहर के लोग मिले हैं, जिसमें से दस लोग रांची के हिंदपीढ़ी इलाके में रहकर आये थे।

बाहर से आये हुये ऐसे सभी दस लोगों के सैंपल ले लिये गये हैं और सभी को सेल्फ क्वारंटाइन कर दिया गया है। इन दस लोगों के साथ 14 लोग संपर्क में रह रहे थे, जिनकी भी स्वास्थ्य जांच शुरू कर दी गयी है और उनको आजादनगर की मसजिद में ही रखा गया है।

इसके अलावा धालभूमगढ़ में भी एक व्यक्ति की जांच की गयी है, जिसमें वह बाहरी पाया गया है और उसको भी स्वास्थ्य जांच के लिए एमजीएम अस्पताल लाया गया है।

इसी तरह जुगसलाई में पहले ही 19 लोगों को दो मसजिदों से पाया गया है, जिनको मसजिदों में ही क्वारंटाइन करके रखा गया है।

जमशेदपुर के एसएसपी अनूप बिरथरे (Anoop Birthare, SSP of Jamshedpur) ने बताया है कि मस्जिद कमेटी के साथ मिलकर स्थानीय थाना ने इस अभियान को चलाया है,किसी मस्जिद में कोई छापेमारी नहीं की गयी है।

उन्होंने बताया कि 11 अन्य विदेशी जो जमशेदपुर आये हैं उन्हें भी सेल्फ आइसोलेशन पर रखा गया है।

श्री बिरथरे ने कहा कि लॉक डाउन हो जाने के कारण मस्जिद में जमात के लोग फंसे हुये थे, हालांकि उनमें से 4 लोगों को मुसाबनी स्थित आइसोलेशन कैंप भेजा गया है।

Jamshedpur News In Hindi,Jharkhand News In Hindi,

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner