प्रकाश अंबेडकर ने सरकार से पूछा – प्रवासी मजदूर किराए के लिए पैसे कहाँ से लायेंगे ?

प्रकाश अंबेडकर ने सरकार से पूछा – प्रवासी मजदूर किराए के लिए पैसे कहाँ से लायेंगे ?

Prakash Ambedkar asked the government – From where will the migrant laborers get the money for fare?

नई दिल्ली, 04 मई 2020.  वंचित बहुजन आघाड़ी के राष्ट्रीय अध्यक्ष (National President of Vanchit Bahujan Aaghadi) प्रकाश अंबेडकर (Prakash Ambedkar) ने कहा है कि प्रवासी मजदूर किराए के लिए पैसे कहाँ से लायेंगे ? सरकार उन्हें तुरंत मुफ्त में अपने गांव जाने दे।

श्री अंबेडकर ने ट्वीट किया,

“वो किराये के लिये पैसे कहाँ से लायेंगे ? सरकार उन्हें तुरंत मुफ्त में अपने गांव में जाने दे। सरकार से अनुरोध है कि वे इस पर तुरंत कार्रवाई करे।“

एक वीडियो संदेश जारी करते हुए श्री अंबेडकर ने लिखा,

लॉकडाउन के दौरान राज्य में फंसे कई मजदूरों को उनके गांव ले जाने के लिए रेल और एसटी की सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। लेकिन केंद्र और राज्य सरकारें मजदूरों के साथ भेदभाव और शोषण कर रही हैं। उनसे किराया वसूला जा रहा है। मजदूरों के पास खाने के लिए पैसे नहीं ये।


हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner