योगीराज में प्रयागराज : कश्मीरी फेरीवालों से प्रशासन कर रहा सौतेला व्यवहार – कांग्रेस

Prayagraj in Yogiraj: administering half-hearted treatment to Kashmiri hawkers – Congress

न वापस लौटने का पास दे रहा न अनाज दे रहा प्रशासन- शाहनवाज़ आलम

Administration is not giving return pass nor is giving grain – Shahnawaz Alam

लखनऊ, 9 मई 2020। कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग ने प्रयागराज प्रशासन पर  कश्मीरी फेरीवालों को अपने प्रदेश लौटने के लिए पास नहीं आवंटित करने का आरोप लगाया है।

कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज़ आलम ने जारी बयान में कहा है कि शहर में फंसे 78 कश्मीरी पिछले एक महीने में कई बार डीएम, एडीएम से मिलकर वापस जाने के लिए पास की मांग कर चुके हैं लेकिन प्रशासन टाल मटोल कर रहा है। यहां तक कि फेरी करके शॉल बेचने आए इन लोगों ने अपने पैसे से 3 बसों की भी व्यवस्था कर ली है, लेकिन सभी आवश्यक दस्तावेज़ होने के बावजूद प्रयाग राज प्रशासन उन्हें पास नहीं दे रहा है।

शाहनवाज़ आलम ने कहा कि जब यूपी में फंसे दूसरे राज्यों के लोगों को अपने राज्य वापस जाने के लिए आसानी से पास दिया जा रहा है तो कश्मीरियों के साथ सौतेला व्यवहार करके सरकार क्य सन्देश देना चाहती है।

शाहनवाज़ आलम ने कहा कि उनसे बातचीत में इन कश्मीरी लोगों ने यह भी बताया है कि केंद्र सरकार द्वारा दूसरे राज्यों में फंसे कश्मीरियों के लिए जारी हेल्पलाइन नम्बरों पर भी बात करने का कोई फायदा इन्हें नहीं हुआ है। वहीं कई बार प्रयागराज प्रशासन से बात करने के बावजूद अनाज़ और खाने तक की कोई व्यवस्था नहीं हुई है।

शाहनवाज़ आलम ने कहा कि कश्मीर में इंटरनेट की सेवा बंद (Internet service stopped in Kashmir) होने के कारण ये लोग अपने परिजनों तक से कट गए हैं, ऊपर से योगी सरकार का रवैय्या इन्हें और दुखी करने वाला है। उन्होंने तत्काल इन्हें वापस कश्मीर जाने का पास जारी करने की मांग की है।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations