प्रेमचंद घर में – शिवरानी देवी | साहित्य से इतर प्रेमचंद | प्रो. सुधा सिंह का संवाद |hastakshep | हस्तक्षेप | उनकी ख़बरें जो ख़बर नहीं बनते

प्रेमचंद घर में – शिवरानी देवी | साहित्य से इतर प्रेमचंद | प्रो. सुधा सिंह का संवाद |hastakshep | हस्तक्षेप | उनकी ख़बरें जो ख़बर नहीं बनते

“Premchand: Ghar Mein by Shivrani Devi” review by Prof. Sudha Singh

Shivrani Devi Premchand | Munshi Premchand wife Shivrani Devi

लेखिका शिवरानी देवी का व्यक्तित्व कैसा था ? प्रेमचंद का निजी जीवन कैसा था? प्रेमचंद एक पति के रूप में कैसे थे ? प्रेमचंद एक पुरुष के रूप में कैसे थे ? घर गृहस्थी के लिहाज से प्रेमचंद कैसे थे ? प्रेमचंद का वैवाहिक जीवन कैसा था ? प्रेमचंद का लेखकीय व्यक्तित्व कैसा था ? शिवरानी देवी प्रेमचंद को कहां से मिलीं ? इस वीडियो के जरिए प्रेमचंद को जानें।

साथ ही जानें शिवरानी देवी लेखिका कैसे बनीं? स्त्री के लिए सबसे महत्वपूर्ण है रुचि के अनुकूल आदमी मिलना और स्त्री पुरुष किन अर्थों में सहयोगी होने चाहिएं।

प्रेमचंद की दुर्बलता थी कि लोग उन्हें ठग लेते थे पर शिवरानी देवी ने प्रेमचंद के दोष छिपाने का काम नहीं किया एक समय ऐसा भी आया जब प्रेमचंद के शराब पीने पर शिवरानी देवी ने घर का दरवाजा नहीं खोला।

शिवरानी देवी का आत्मकथा कहिए या प्रेमचंद की जीवनी, “प्रेमचंद घर में” की समीक्षा के जरिए प्रेमचंद और शिवरानी देवी के व्यक्तित्व व कृतित्व को नई रोशनी में समझने की कोशिश कर रही हैं दिल्ली विश्वविद्यालय की प्रोफेसर सुधा सिंह। वीडियो पूरा सुनें.. शेयर भी करें और चैनल सब्सक्राइब भी करें

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.