Home » समाचार » देश » जहाँ अन्याय होगा वहां हम खड़े होंगे, हिंसा पीड़ित परिजनों से मिलीं प्रियंका गांधी
Priyanka Gandhi at Muzaffarnagar

जहाँ अन्याय होगा वहां हम खड़े होंगे, हिंसा पीड़ित परिजनों से मिलीं प्रियंका गांधी

Priyanka Gandhi met family members of violence

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी शनिवार सुबह मुजफ्फरनगर पहुंचीं

मुज़फ़्फ़रनगर, 04 जनवरी 2019. सीएए, एनआरसी व एनपीआर (CAA, NRC और NPR) के विरोध में देशभर में हो रहे प्रदर्शनों के दौरान उत्तर प्रदेश में पुलिस केद्वारा की गई कार्रवाई से पीड़ित परिवारों से मिलने का सिलसिला प्रियंका गांधी ने जारी रखते हुए आज मुज़फ़्फ़रनगर में पीड़ितों का दर्द सुना।

प्रियंका गांधी सीधे मौलाना असद के घर पहुंचीं जहां उन्होंने पीड़ित लोगों से बात की। प्रियंका गांधी के साथ प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष पूर्व विधायक एवं पश्चिम उप्र के प्रभारी पंकज मलिक व इमरान भी थे।

प्रियंका गांधी ने मुजफ्फरनगर में कई परिवारों से मुलाकात की। प्रियंका गांधी ने कहा कि मौलाना असद ने मुझे बताया कि पुलिस ने मदरसे के अंदर घुसकर छात्रों को बेरहमी से पीटा और फिर बच्चों को जेल में डाल दिया।

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि पीड़ितों में किसी का हाथ टूटा हुआ है और किसी के टांगों में पट्टी हुई है। प्रियंका गांधी के अनुसार पीड़ित लोगों का कहना है कि पुलिस ने घरों में घुसकर लोगों के साथ मारपीट की और तोड़फोड़ की है।

श्रीमती गांधी प्रदर्शन में शहीद हुए नूर मोहम्मद के यहां भी पहुंचीं। यहां पीड़ितों का हाल देख प्रियंका गांधी ने कहा कि यह बहुत ही दर्दनाक है। उन्होंने कहा कि पीड़िता सात माह की गर्भवती हैं और उसके छोटी सी एक बच्ची है। प्रियंका गांधी ने कहा हम कोशिश करेंगे कि जहां-जहां अन्याय हुआ हम वहां जाएंगे और पीड़ित लोगों की मदद करेंगे।

उनका कहना है कि पुलिस का काम जनता की सुरक्षा करना है लेकिन यहां तो उल्टा हुआ है।

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! 10 वर्ष से सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 
 भारत से बाहर के साथी पे पल के माध्यम से मदद कर सकते हैं। (Friends from outside India can help through PayPal.) https://www.paypal.me/AmalenduUpadhyaya
इस दौरान प्रियंका गांधी ने रुकैया परवीन से भी मुलाकात की, जिनकी आज शादी हो रही है। प्रियंका गांधी ने कहा कि पुलिस ने परवीन के घर में तोड़फोड़ की और उसके घर में रखा दहेज का सामान भी तोड़ दिया गया।

वहीं पूरे उत्तर प्रदेश में हुई हिंसा के सवाल पर प्रियंका गांधी ने कहा कि मैंने राज्यपाल को एक बहुत लंबी चिट्ठी भेजी है। उसमें पूरी डिटेल है। पुलिस ने लोगों को किस तरह से पीटा है। प्रियंका गांधी ने कहा कि पुलिस ने बच्चों को भी जेल में डाला है जो कि बहुत गलत है।

इसके अलावा पाकिस्तान में गुरुद्वारा पर हुए पथराव के सवाल पर प्रियंका गांधी ने कहा कि जहां-जहां गलत होता है, वह गलत है। गलत काम किसी को नहीं करना चाहिए।

बता दें कि प्रियंका गांधी का काफिला नहर की पटरी से होते हुए मुजफ्फरनगर पहुंचा।

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

Modi in Gamchha

गहरे संकट में अर्थव्यवस्था : जीडीपी का 34% पहुंच चुका है भारत सरकार का वित्तीय घाटा !

नई दिल्ली, 03 जुलाई 2020. भारत की विकास दर (India’s growth rate) रसातल में पहुंच …

Leave a Reply