Home » Latest » आज़मगढ़ के चर्चित सामाजिक कार्यकर्ता तैयब आज़मी की मृत्यु पर प्रियंका गांधी ने जताया शोक
Priyanka Gandhi Vadra

आज़मगढ़ के चर्चित सामाजिक कार्यकर्ता तैयब आज़मी की मृत्यु पर प्रियंका गांधी ने जताया शोक

Priyanka Gandhi mourns the death of prominent social activist Tayab Azmi of Azamgarh

पत्नी निकहत आरा को लिखा शोक पत्र

पत्र में कहा वो मुझे हमेशा याद रहेंगे

लखनऊ, 13 अप्रैल 2020। आज़मगढ़ के चर्चित सामाजिक-राजनीतिक कार्यकर्ता तैयब आज़मी की मृत्यु पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने शोक व्यक्त किया है।

रेलवे संघर्ष समिति के संयोजक तैयब आज़मी की विगत दिनों बीमारी के कारण मृत्यु हो गयी थी। उन्हें ज़िले में बड़ी रेल लाइन और अन्य रेलवे सुविधाओं के लिए हज़ार दिनों से ज़्यादा अकेले ही धरने पर बैठने के लिए जाना जाता है। 12 फ़रवरी 2020 को आज़मगढ़ के बिलरियागंज में नागरिकता संशोधन क़ानून के ख़िलाफ़ धरने पर बैठी महिलाओं पर पुलिस द्वारा हमले में घायल महिलाओं से मिलने आते समय प्रियंका गांधी ने रास्ते में गाड़ी रोक कर तैयब आज़मी से बात की थी।

आज़मगढ़ ज़िला कांग्रेस अध्यक्ष प्रवीण सिंह ने तैयब आज़मी के परिजनों को प्रियंका गांधी द्वारा भेजा गया शोक पत्र सौंपा।

तैयब आज़मी की पत्नी निकहत आरा को संबोधित पत्र में प्रियंका गांधी ने लिखा है

‘आपके पति श्री तैयब आज़मी जी के निधन के समाचार से मुझे बहुत कष्ट हुआ। मैं बिलरियांज के दौरे पर उनसे चंद लम्हों के लिए मिली थी। उनसे बात करके बहुत अच्छा लगा था। वो मुझे हमेशा याद रहेंगे। मुझे पता चला था कि वो ज़िले में रेलवे की सुविधाओं के लिए लंबे समय तक संघर्ष करते रहे हैं। जनसेवा के प्रति उनका समर्पण हमेशा लोगों को प्रेरित करता रहेगा।

मुझे एहसास है कि आपको और आपके परिवार को इस पीड़ा को सहन करना कितना कठिन होगा। मैं आपके और आपके पूरे परिवार के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करती हूँ।

आपकी

प्रियंका गांधी वाड्रा

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

world aids day

जब सामान्य ज़िंदगी जी सकते हैं एचआईवी पॉजिटिव लोग तो 2020 में 680,000 लोग एड्स से मृत क्यों?

World AIDS Day : How can a person living with HIV lead a normal life? …