Best Glory Casino in Bangladesh and India!
ठंड नहीं लगने के सवाल पर राहुल गांधी का धांसू जवाब, जानिए क्या बोले

ठंड नहीं लगने के सवाल पर राहुल गांधी का धांसू जवाब, जानिए क्या बोले

नई दिल्ली, 24 दिसंबर 2022: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष व केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा‘ राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्रवेश कर चुकी है। राहुल गांधी ने इस दौरान लाल किले से कार्यकर्ताओं-और उपस्थित जनसमूह को संबोधित किया।

राहुल गांधी ने केंद्र सरकार को महंगाई और गरीबी के मुद्दे पर घेरा। इस दौरान दिल्ली की कड़कड़ाती ठंड के बीच टी-शर्ट पहनकर पैदल मार्च करने के सवालों का भी राहुल गांधी ने जवाब दिया।

टी-शर्ट पहनकर पैदल मार्च करने पर क्या बोले राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा कि मीडिया वाले मुझसे पूछ रहे थे कि मुझे ठंड नहीं लगती क्या? मेरा कहना है कि ये हिंदुस्तान के किसान से क्यों नहीं पूछते? मजदूर से क्यों नहीं पूछते? हिंदुस्तान के गरीब बच्चों से क्यों नहीं पूछते? फिर ये भी कहते हैं कि देखो ये 2800 किलोमीटर पैदल चल लिया। तो मेरा कहना है कि ये कोई बड़ी बात नहीं है। पूरा हिंदुस्तान चलता है, जिंदगी भर चलता है। किसान-मजदूर चलते हैं। हमने कोई बड़ा काम नहीं किया है। किसान जिंदगी में शायद 10 हजार, 15 हजार, 20 हजार किलोमीटर चल लेता है।

श्री गांधी ने कहा कि पूरा देश जानता है कि ये नरेंद्र मोदी की सरकार नहीं, कुछ उद्योगपतियों की सरकार है। मैं 2,800 किमी चला, मुझे कहीं भी नफरत या हिंसा नहीं दिखी मगर मैं जब भी न्यूज चैनल खोलता हूं तो हमेशा नफरत-हिंसा दिखाई देती है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि ये आपका ध्यान इधर से उधर लेकर जाना चाहते हैं। जो सच्चे मुद्दे हैं उस पर आपका ध्यान गलती से भी नहीं चला जाए।

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अगर इस देश को कोई रोजगार दे सकता है तो वो किसान और छोटे व्यापारी दे सकते हैं क्योंकि ये देश में लाखों हैं। ये लोग 24 घंटे लगे रहते हैं। इनके लिए बैंक के दरवाजे बंद रहते हैं। हिंदुस्तान के 2-3 अरबपतियों को 1 लाख करोड़, 2 लाख करोड़, 3 लाख करोड़ आसानी से दे दिया जाता है मगर ये (किसान और छोटे व्यापारी) बैंक के सामने जाते हैं, तो इनको धकेलकर निकला दिया जाता है।

Rahul Gandhi’s cool answer on the question of not feeling cold, know what he said

दिल्ली के दरवाजे से राहुल की हुंकार | Congress | breaking news | hastakshep | Congress

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner