Home » Latest » हस्तक्षेप साहित्यिक कलरव में इस रविवार राजेश शर्मा
Rajesh Sharma Sahitya Kalrav

हस्तक्षेप साहित्यिक कलरव में इस रविवार राजेश शर्मा

नई दिल्ली, 06 अगस्त 2020. हस्तक्षेप डॉट कॉम के यूट्यूब चैनल के साहित्य अनुभाग साहित्यिक कलरव में इस रविवार चंबल के लाल राजेश शर्मा का काव्य पाठ होगा।

यह जानकारी देते हुए हस्तक्षेप साहित्यिक कलरव के संयोजक डॉ. अशोक विष्णु व डॉ. कविता अरोरा ने बताया कि मध्य प्रदेश के भिण्ड में जन्मे सुप्रसिद्ध साहित्यकार राजेश शर्मा ने 1980 से स्वान्त: सुखाय के लिये लिखना शुरू किया फिर धीरे-धीरे लोगों को उनका लेखन पसंद आने लगा। आप दोहे, गीत, गीतिका लिखते हैं।

दूरदर्शन, आकाशवाणी, राष्ट्रीय चैनल और कई स्थानीय चैनलों, में आपकी रचनाओं का प्रसारण निरन्तर जारी है।

आप बैंक आफ इंडिया में कार्यरत रहे हैं। सेवा में रहते हुए  मंच और काम में बख़ूबी अनुशासित सामंजस्य बनाए रखा। कभी भी आपने अपने साहित्यिक कार्यक्रम की वजह से बैंक को एक मिनट का भी इंतज़ार नहीं कराया। कभी भी आपने बैंक में कवि रूप में और मंच पर बैंक के अफसर होने का भान तक नहीं होने दिया। बैंक के कार्यभार के साथ-साथ आपने अपने गीतों, दोहों से जनमानस को छुआ और साहित्य की सेवा की वो क़ाबिले तारीफ़ है।

आपकी गीतिकायें ग़ज़ल का रंग ले सकती थीं, पर आप पूरी ईमानदारी के साथ मानते हैं कि “मैं शायर नहीं हूँ तो ग़ज़ल कैसे कह सकता हूँ?”

श्री शर्मा कहते हैं कि आजकल साहित्य सहेजने की बहुत आवश्यकता है, ज़बरन साहित्य का सृजन नहीं होता है।

डॉ. कविता अरोरा ने कहा कि राजेश शर्मा ने साबित किया है कि प्रतिभा हो तो व्यक्ति किसी भी मुक़ाम को आसानी से छू सकता है। बैंक में सूखे आँकड़े में लगी उँगलियाँ फिसल- फिसल कर गीतों के रास्तों पर पड़ीं, क़लम से मुहब्बत कर उन्हें चूम-चूम कर गीतों-दोहों का इक संसार रच बैठीं, जिसके आखर-आखर से रस की धार बहती है।

तो इस रविवार 09 अगस्त 2020 को ठीक सायं 4 बजे हस्तक्षेप डॉट कॉम के यूट्यूब चैनल के साहित्यिक कलरव में सुनना न भूलें राजेश शर्मा का काव्यपाठ। लिंक निम्न है…. रिमाइंडर सेट करें.

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

Rahul Gandhi

राहुल गांधी उवाच : सरकार ने अपना काम ठीक से नहीं किया

Rahul Gandhi said: Government did not do its job properly नई दिल्ली, 10 मई 2021. …