रिहाई मंच ने डीजीपी से कहा भाजपा विधायक के खिलाफ हो कानूनी कार्रवाई

Rihai Manch asked DGP to take legal action against BJP MLA

लखनऊ, 17 अप्रैल 2020 : भाजपा विधायक सहेंद्र सिंह चौहान द्वारा फेसबुक पर साम्प्रदायिक विद्वेष फैलाने को लेकर रिहाई मंच ने डीजीपी यूपी से कानूनी कार्रवाई की मांग की है।

रिहाई मंच महासचिव राजीव यादव के पत्र का मजमून निम्न है –

 

प्रति,

पुलिस महानिदेशक

उत्तर प्रदेश, शासन

लखनऊ

 

महोदय,

आपका ध्यान फेसबुक पर सहेंद्र सिंह चौहान विधायक छपरौली विधानसभा क्षेत्र 50 उत्तर प्रदेश की पोस्ट दिनांक 15 अप्रैल 2020 समय 11.13 की ओर आकर्षित कराना है. उक्त पोस्ट पर सहेंद्र सिंह चौहान ने अपनी वीडियोग्राफी के साथ अपील किया है. उक्त अपील द्वारा साशय हिंदुओं में मुसलमानों के प्रति विद्वेष फैलाने के उद्देश्य से कहा है कि जमाती समुदाय के लोगों को चीनी मिल, बैंक में जाने से रोका जाए तथा सब्जी बेचने वालों को अपने बीच आने से रोका जाए. उक्त अपील से जमाती के नाम पर किसी भी मुसलमान पर हमला होने का खतरा बन गया है जिससे शांति व्यवस्था बिगड़ सकती है.

अतः निवेदन है कि उक्त सहेंद्र सिंह चौहान के विरुद्ध त्वरित कानूनी कार्रवाई करने की कृपा करें.

नोट- आपके अवलोकनार्थ तथा विचारार्थ फेसबुक लिंक- https://www.facebook.com/100042305910498/posts/217500423003487/?flite=scwspnss&extid=nkM3hlZvpnHzqLga

द्वारा-

राजीव यादव

महासचिव, रिहाई मंच

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations